उपायुक्त ने बेहतर कार्य प्रदर्शन न करने वाले बैंकों के विरुद्ध एसएलबीसी व वरीय अधिकारियों को पत्राचार करने का दिया निर्देश



उपायुक्त-सह-जिला दण्डाधिकारी  मंजूनाथ भजंत्री की अध्यक्षता में जिला स्तरीय समन्वय समिति (डीएलसीसी) एवं जिला स्तरीय परामर्शदात्री समिति (डीएलआरसी), आर्सेटी सलाहकार समिति, एसीपी एवं पीएमईजीपी की समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया। इस दौरान उपायुक्त ने बिंदुबार तरीके से चल रहे विभिन्न कार्यों की विस्तृत समीक्षा करते हुए संबंधित अधिकारियों व बैंक प्रतिनिधियों को आवश्यक व उचित दिशा निर्देश दिया। साथ ही पीएम किसान योजना के तहत चल रहे कार्यों की प्रखंडवार समीक्षा करते हुए उपायुक्त ने 31 दिसंबर तक सभी लाभुकों को जोड़ते हुए उपायुक्त कार्यालय को अवगत कराने का निर्देश संबंधित अधिकारियों व बैंक के प्रतिनिधियों को दिया।

इसके अलावे बैठक के दौरान उपायुक्त मंजूनाथ भजंत्री ने किसान क्रेडिट कार्ड से वंचित कृषकों का निबंधन जल्द कराने, पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत केसीसी से संबंधित कार्यों में प्रखंड कृषि पदाधिकारी, एटीएम, बीटीएम, जनसेवक, कृषि मित्र व अन्य कर्मियों का सहयोग लेकर लक्ष्य पूरा करने का निर्देश दिया। साथ ही पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत केसीसी से संबंधित प्रखंड वार समीक्षा करते हुए उपायुक्त ने सभी प्रखंड कृषि पदाधिकारियों को  निर्देशित किया कि जिला अग्रणी बैंक प्रबंधक के साथ समन्वय स्थापित करते बैंकों में लंबित सभी केसीसी आवेदनों का शीघ्र निष्पादन कर सभी पात्र लाभुकों को केसीसी से आच्छादित करें। आगे उपायुक्त ने बैंकवार केसीसी ऋण के तहत किये जा रहे कार्यों की समीक्षा करते हुए कहा कि शत-प्रतिशत पात्र लाभुकों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना से जोड़ने का लक्ष्य है। ऐसे में वैसे लाभुक जो प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत केसीसी लाभ से वंचित हैं, उन्हें योजना के लाभ से अच्छादित कराने के लिए क्षेत्रीय पदाधिकारियों, कर्मचारियों और प्रखंड कृषि पदाधिकारी, प्रखंड तकनीकी प्रबंधक एवं सहायक तकनीकी प्रबंधक, जनसेवक एवं अंचल निरीक्षक आदि से समन्वय स्थापित करते हुए सभी पात्र लाभुकों को लाभ दिलाने का कार्य करें। वही योजना के लाभ लेने हेतु एक ही परिवार के सदस्यों द्वारा किए गए आवेदन की जांच करते हुए संबंधित पर आवश्यक व कड़ी कार्रवाई करने का निर्देश उपायुक्त ने संबंधित अधिकारियों को दिया।

■ छात्रवृत्ति समेत अन्य प्रोत्साहन योजनाओं का लाभ लेने के लिए छात्र-छात्राओं का खाता खुलवाने में करे सहयोग:- उपायुक्त....

समीक्षा बैठक के क्रम में उपायुक्त मंजूनाथ भजंत्री ने छात्रवृत्ति एवं अन्य प्रोत्साहन योजनाओं का लाभ छात्र-छात्राओं को ससमय मिलने के उद्देश्य से बैंकों में खाता खुलवाने के कार्यों को जल्द से जल्द पूर्ण करने का निर्देश संबंधित अधिकारियों व बैंक प्रतिनिधियों को दिया, ताकि इन योजनाओं के अंतर्गत राशि का हस्तांतरण सीधे छात्र-छात्राओं के बैंक खाता में किया जा सके। आगे उपायुक्त ने शिक्षा विभाग व बैंक के अधिकारियों को निर्देशित किया कि आपसी समन्वय के साथ विशेष कैम्प का आयोजन करते हुए जिन छात्र-छात्राओं का बैंक खाता अभी तक नहीं खुला है उन्हें अपने नजदीकी बैंक में खाता खुलवाने में सहयोग करें। इसके अलावे बैठक के दौरान उपायुक्त  मंजूनाथ भजंत्री ने कहा कि जिला अंतर्गत नगद जमा अनुपात, क्रॉप ऋण, पी०एम०ई०जी०पी०, एसीपी अद्यतन स्तिथि, केसीसी लोन, प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम,के साथ चल रहे विभिन्न कार्यों की अद्यतन स्थिति से अवगत हुई। इसके अलावे उन्होंने जिला अंतर्गत नगद जमा अनुपात की समीक्षा करते हुए एल०डी०एम० को निदेशित किया कि सभी बैंक शाखाओं का निरीक्षण कर अपने अधिनस्थ अधिकारियों को नगद जमा अनुपात में बढ़ोतरी कराने का निर्देश दे। साथ हीं उपायुक्त श्री मंजूनाथ भजंत्री ने संबंधित अधिकारियों को निदेशित किया कि स्वरोजगार को बढ़ावा देने के उद्देश्य से शुरू की गयी प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के तहत प्राप्त आवेदनो के जल्द से जल्द निष्पादित करते हुए लाभूकों के व्यवसाय का निरंतर अनुश्रवण करते रहें। साथ हीं समय-समय पर उन्हें सहयोग व आवश्यक मार्गदर्शण देते रहें।

■ बैंक व संबंधित विभाग लाभुकों को लाभ दिलाने हेतु प्रखण्ड स्तर पर करें कैम्प का आयोजनः उपायुक्त....

 बैठक के दौरान उपायुक्त  मंजूनाथ भजंत्री ने पीएम किसान, छात्रवृत्ति योजना के लाभ, बकरी पालन, मछली पालन, डेयरी उद्योग, किसान क्रेडिट कार्ड आदि के माध्यम से लाभुकों को लाभ दिलाने एवं आवेदनों के त्वरित निष्पादन हेतु संबंधित विभाग एवं बैंक के अधिकारियों को निदेशित किया कि प्रखण्ड स्तर पर कैम्प का आयोजन कर लोगों को योजनाओं का लाभ व उनकी समस्याओं का समाधान करें। 

समीक्षा बैठक में उपरोक्त के अलावे एल०डी०एम०, प्रबंधक जिला उद्योग केंद्र, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी, जिला कृषि पदाधिकारी, निदेशक आर्सेटी, हेंडी क्राफ्ट सर्विस, प्रबंधक EODBM, सहायक जनसंपर्क पदाधिकारी एवं संबंधित विभाग के अधिकारी व विभिन्न बैंकों के प्रतिनिधि आदि उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं