कृषि सांख्यिकी आंकड़े एकत्रित करने को लेकर जिला स्तरीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन



उपायुक्त सह जिला दण्डाधिकारी  मंजूनाथ भजंत्री के निदेशानुसार आज दिनांक-01.10.2021 को सूचना भवन सभागार में जिला स्तरीय कृषि सांख्यिकी कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान जिला स्तरीय कृषि सांख्यिकी से संबंधित सभी अंचल निरीक्षक, प्रखण्ड सहकारिता पदाधिकारी, प्रखण्ड सांख्यिकी पर्यवेक्षक, सभी प्रखण्ड कृषि पदाधिकारी एवं प्रखण्ड-देवघर, करौं एवं देवीपुर के सभी पंचायत सचिव, राजस्व कर्मचारी एवं बी०टी०एम० को प्रशिक्षण दिया गया। साथ हीं प्रशिक्षण कार्यक्रम के दौरान मुख्य रूप से सामान्य द्रुत जिन्सवार, सामान्य जिन्सवार, भूमि उपयोग विवरणी, शुद्ध सिंचित क्षेत्र विवरणी तथा विभिन्न फसलों यथा धान, गेंहू, अरहर, चना, मसूर, मूंग, आलू, मकई, राई-सरसों एवं सब्जी का फसल कटनी प्रयोग के बारे में विहित प्रपत्र में बारिकी से सभी प्रशिक्षणार्थियों को विस्तृत जानकारी दी गयी। 

इसके अलावे प्रशिक्षण कार्यक्रम के दौरान जिला सांख्यिकी पदाधिकारी श्री कमलेश कुमार द्वारा जानकारी दी गयी कि फसल कटनी प्रयोग से अपने प्रखण्ड, जिले एवं राज्य का इल्ड रेट निकाला जाता है, इल्ड रेट से ये जानकारी प्राप्त होती है कि हमारे देश में अनाज का कितना उत्पादन हुआ। साथ हीं प्रखण्ड स्तरीय मकई, चना, राई-सरसों, आलू अरहर एवं पंचायत स्तरीय अगहनी धान एवं रब्बी गेंहू का फसल कटनी प्रयोग किया जाता है। वहीं प्रशिक्षण कार्यशाला के दौरान कृषि सांख्यिकी आंकड़े एकत्रित करने के अलावा फसल कटनी, फसल सर्वेक्षण, चारों मौसम के अलावा भूमि के उपयोग की विवरणी के बारे में जानकारी दी गई। साथ हीं प्रशिक्षणार्थियों को बताया गया कि तैयार विवरणी को कैसे अंचल व प्रखंड कार्यालय से जिला कार्यालय भेजा जाएगा एवं जिला कार्यालय से राज्य स्तर पर सर्वेसित फसल संबंधित आंकड़ों के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी सभी को दी गई। 

इस दौरान उपरोक्त के अलावे सभी अंचल निरीक्षक, सभी प्रखण्ड सहकारित पदाधिकारी, सभी प्रखण्ड सांख्यिकी पर्यवेक्षक, सभी प्रखण्ड कृषि पदाधिकारी एवं प्रखण्ड-देवघर, करौं देवीपुर के सभी पंचायत सचिव तथा राजस्व कर्मचारी बीटीएम आदि उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं