#DeogharMart से जुड़ने और अपने व्यवसाय को बेहतर करने के उद्देश्य से एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन



उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी श्री मंजूनाथ भजंत्री के निर्देशानुसार जिले के कामगारों एवं महिलाओं को स्वरोजगार से जोड़ कर उन्हें आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में जिला प्रशासन लगातार कार्य रही है। इसी के तहत  दिनांक 11.09.2021 को विकास भवन के सभागार में देवघर जिले के पारंपरिक कारीगर जैसे बंबू क्राफ्ट, लाह की चूड़ी, लोहार, कढ़ाई, पेंटिंग, बुनाई करने वालों एवं जेएसएलपीएस की दीदियों, पेड़ा व्यवसायी, कपड़ा व्यवसायी, लघु-कुटीर उद्योग से जुड़े लोगों को देवघर मार्ट प्लेटफार्म पर लाकर बेहतर बाजार उपलब्ध कराने के उद्देश्य से जिला जनसंपर्क पदाधिकारी श्री रवि कुमार, जिला सूचना विज्ञान पदाधिकारी श्री एवी रॉय की अध्यक्षता में वेंडर, आरटीजीएन एवं एसएचजी के सदस्यों के साथ एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन किया गया। 

प्रशिक्षण कार्यक्रम के दौरान डाक्टर नवीन के द्वारा जानकारी देते हुए कहा गया कि देवघर मार्ट डिस्ट्रिक्ट ई-गवर्नेंस सोसायटी के तहत एक पहल है जो देवघर जिले के लिए स्टेट ऑफ आर्ट बहु उत्पाद ई-कॉमर्स बाजार का निर्माण करने जा रही है। यह प्लेटफार्म एक ई-कॉमर्स बाजार है जो देवघर के स्थानीय कलाकारों, महिला, स्वयं सहायता समूह, सूक्ष्म, लघु, मध्यम और दूसरे स्थानीय उद्योगों के लिए भारत का राष्ट्रीय और विश्व को अंतर्राष्ट्रीय बाजार का मार्ग खोल देगा। आगे उन्होंने कहा कि इसी माह में #DeogharMart की लांचिग की जानी है। देवघर मार्ट एक बड़ा प्लेटफार्म है। देवघर मार्ट एक हाट व बाजार की तरह है, जहां आप वेंडर के साथ-साथ आरटीजीएन एवं एसएचजी के सदस्य अपने सामानों को बिना किसी बिचौलियों की मदद से बेच सकते हैं। इस दौरान उन्होनें सामान की गुणवत्ता को लेकर विस्तार से जानकारी दिया। और वेंडर, आरटीजीएन एवं एसएचजी के सदस्यों को GST REGISTRATION के फायदों व online समान की बिक्री के साथ साथ इसके उपयोग की जानकारी दी गयी। इसके आलवे ब्रांडिग, पैकिग के कार्यों की भी जानकारी दी गई।

इस दौरान उपरोक्त के अलावे डीसी सेल से आस्था जोशी, किरण छापा, सोशल मीडिया पब्लिसीटी ऑफिसर सुधा राज व अन्य कर्मी आदि उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं