DeogharMart वेबसाईट संचालन को लेकर उपायुक्त की उपस्थिति में संबंधित कम्पनी व जिला प्रशासन के बीच हुआ एमओयू हस्ताक्षरः-उपायुक्त



उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी मंजूनाथ भजंत्री की उपस्थिति में ऑनलाइन प्लेटफॉर्म #DeogharMart वेबसाईट को लेकर संबंधित कम्पनी व जिला प्रशासन के बीच एमओयू पर हस्ताक्षर किया गया। इस दौरान उपायुक्त ने सभी को बधाई देते हुए कहा कि देवघर मार्ट के जरिये पारम्परिक व हस्तशिल्प से जुड़े कामगारों को सहयोग के साथ भारतीय राष्ट्रीय बाजार तक पहुंचने और अपना दायरा बढ़ाने में काफी महत्वपूर्ण होगा। साथ हीं मौके पर उपस्थित संबंधित कंपनी के प्रतिनिधि द्वारा देवघर मार्ट वेबसाईट से जुड़े जानकारियों के साथ सामानों की डिलेवरी, पैकिंग, पैमेन्ट एवं सामानों की ब्रांडिंग के अलावा अन्य आवश्यक दी जाने वाली विभिन्न सुविधाओं से अवगत कराया गया। 

इसके अलावे बैठक के दौरान उपायुक्त  मंजूनाथ भजंत्री ने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि देवघर मार्ट वेबसाईट के सफल संचालन को लेकर जिला स्तरीय समन्वय व सुविधा की निगरानी हेतु कमिटि गठन करने का निदेश दिया। साथ हीं उपायुक्त ने सितम्बर माह में देवघर मार्ट वेबसाईट लॉन्च से पहले देवघर जिला से जुड़े सामग्रियों के साथ लघु एवं कुटीर उद्योग यथा-पेड़ा उद्योग, लोहारगिरी उद्योग, मिट्टी के बर्तन निर्माण, सिलाई-कढ़ाई, बंबू उद्योग, लाह चुड़ी व लहठी उद्योग, खादी ग्रामोद्योग, झारक्राफ्ट, जेएसलपीएस की दीदियों द्वारा निर्मित समान के अलावा स्थानीय लोगों द्वारा निर्मित सामानों को सूचीबद्ध करने के कार्यों को पूर्ण करते हुए प्रथम चरण में 100 वेंडर के साथ-साथ 50 आरटीजीएन एवं एसएचजी गु्रप के सदस्यों द्वारा निर्मित सामानों को लॉन्च की जानकारी से सभी को अवगत कराया। आगे उपायुक्त ने विक्रय हेतु सामानों को बेहतर करते हुए उनके गुणवत्ता में सुधार एवं उनके बाजारीकरण की व्यवस्था सुनिश्चित करने के अलावा पैकिंग, होम डिलीवरी के कार्यों को सुनिश्चित करते हुए प्रखंड स्तर पर संबंधित विभागों के समन्वयक को एक्टिव करने का निर्देश दिया। साथ ही देवघर मार्ट पर उपलब्ध इन उद्योगों को राज्य, देश के साथ-साथ विश्व स्तर पर ख्याति दिलाने के उद्देश्य से देवघर मार्ट वेबसाईट पर मल्टी लैंग्वेज सपोर्ट की सुविधा सुनिश्चित करने का निदेश संबंधित अधिकारियों को दिया। 

इसके अलावे बैठक के दौरान उपायुक्त  मंजूनाथ भजंत्री ने मुख्यमंत्री लघु कुटीर उद्योग, जेएसएलपीएस, उद्योग विभाग, हस्तशिल्प उद्योग के अधिकारियों को निदेशित किया कि आपसी समन्व्य के साथ देवघर जिलान्तर्गत संचालित सभी छोटे-बड़े उद्योगों द्वारा निर्मित सामग्रियों को विश्वपटल पर लाने एवं निर्यात को बढ़ावा देने के उद्देश्य से कार्य करें, ताकि जिले एवं राज्य का नाम के साथ-साथ इन उद्योगों से जुड़े हुए लोगो को भी आर्थिक रूप से सुदृढ़ और सशक्त किया जा सके।

इस दौरान उपरोक्त के अलावे उप विकास आयुक्त  संजय सिन्हा, अनुमंडल पदाधिकारी मधुपुर सौरभ कुमार भुवानिया, प्रशिक्षु आईएएस अनिकेत सच्चान, जिला सूचना विज्ञान पदाधिकारी  एबी रॉय, जिला जनसम्पर्क पदाधिकारी  रवि कुमार, डीपीएम जेएसलपीएस, सहायक जनसम्पर्क पदाधिकारी रोहित कुमार विद्यार्थी, मुख्यमंत्री लघु कुटीर उद्योग के जिला समन्वयक, के अलावा संबंधित विभाग के अधिकारी, आईटी कम्पनियों के प्रतिनिधि एवं वेब पोर्टल डेवलपमेंट टीम आदि उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं