जयंती पर याद किए गए रामास्वामी पेरियार










देवघर झारखंड राज्य दफा चौकीदार पंचायत शाखा-देवघर के स्थान-वर्णवाल सेवा सदन कचहरी रोड देवघर में दिन के 11-00बजेको  सिद्धेश्वर मिर्धा प्रमंडल अध्यक्ष संथाल परगना के अध्यक्षता में महामानव वादी, समाजवादी नेता, एवं एशिया महादेश के सुकरात, भारत के द्रविड़ समाज के आंदोलन कारी के जनक माने जाने वाले  ई वी रामास्वामी पेरियार साहब जी की 141वीं जयंती समारोह आयोजित किया गया है। जिसके मुख्य अतिथि  कृष्ण दयाल सिंह अधिवक्ता होंगे।साथ ही झारखंड राज्य दफा चौकीदार पंचायत के पूर्व अध्यक्ष  अबध बिहारी शर्मा, देवघर। देवघर जिले के निवर्तमान अध्यक्ष  संतोष तुरी एवं देवघर जिले के सभी अंचल के अध्यक्ष-सचिव एवं सभी चौकीदारों के द्वारा स्वर्गीय पेरियार साहब जी के जन्म दिवस समारोह पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि देने का काम करेंगे। इस मौके पर प्रदेश अध्यक्ष  कृष्ण दयाल सिंह के द्वारा कहा कि ईवी रामास्वामी पेरियार साहब जी ने देश को मनुवादियों के कुरीतियों को समाप्त करने का काम किया है और समाज में सति प्रथा,बाल विवाह, जैसे अंध विश्वास को खत्म करने का काम किया है। तथा समाज में समतामूलक समाज, छुआछूत एवं उंच नीच का भेदभाव को समाप्त करने में अहम भूमिका निभाई है। उन्होंने देश के मुलवासियों, दलितों, पिछड़ों, आदिवासियों को को मुर्ति पूजा अर्चना करने पर रोक लगाने का काम किया था। उन्होंने धर्म ग्रंथों को छोड़ कर सदैव संविधान में भरोसा दिलाया था और देश के सभी लोगों को शिक्षित करने में मदद करते रहे।आज देश में उनके प्ररेणा दायक बातें रखने की जरूरत है। समारोह को संबोधित करते हुए प्रमंडल अध्यक्ष  सिद्धेश्वर मिर्धा ने कहा कि आज ही के दिन 17सितंम्बर 1879मै उनके जन्म हुआ था। ओर बचपन से ही तर्क शास्त्र और तर्क संगत बातें करते रहे। उन्होंने कहा कि संसार में भगवान नाम की कोई चीज नहीं है। मैं एक नास्तिक हूं। अगर मेरे देश में भगवान होते तो, आर्थिक स्थिति, शिक्षा की गुणवत्ता, एवं बेरोजगारी की समस्या नहीं होती, देश को भगवान पर भरोसा करने के बजाय पढ़ने लिखने, एवं अपने कर्मों पर जोर देने पर विचार करना चाहिए। ताकि भविष्य में देश समृद्ध शाली,ओर सोने की चिड़िया बन सकते हैं। देश को विकसित करने के लिए विधालय, महाविद्यालय की स्थापना करना चाहिए ना कि मंदिरों और मस्जिदों में उलझाने वाली नितियां लागु किया जाना चाहिए।आज देश को शिक्षित करने में मदद करना है, और बेरोजगारी दूर करने न ई अवसर ढुढ़ने की जरूरत है। जनता को जागरूक करना चाहिए, उनके मौलिक अधिकारों, आर्थिक विकास, एवं संवैधानिक अधिकार को लेकर सदैव तत्पर रहने के लिए कटिबद्ध होना चाहिए।आज के इस समारोह में शामिल देवघर जिले से विभिन्न थाना क्षेत्र एवं अंचलों से उपस्थित हूए है।जानकी पासवान, सचिन महतो,बबलु रवानी, सहदेव पासवान, सुरेश्वर राउत सुखदेव महतो, मथुरा महतो, शिरोमणी वर्मा,मणि महतो,अदेन हाजरा,लक्ष्मण तुरी, मनोज मंडल, युगल किशोर तुरी, सतीश तुरी, दिलीप वर्मा, दीनदयाल पासवान, नंदकिशोर तुरी,शिवन तुरी,फेंकने ततवा, रामनारायण राय,चतुर मिर्धा, पंचानन दास, एवं अन्य चौकीदारों ने भाग लिया।

कोई टिप्पणी नहीं