उपायुक्त ने जेपीएससी प्रतियोगी परीक्षा के सफल संचालन को लेकर अधिकारियों को दिए आवश्यक दिशा निर्देश



उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी  मंजूनाथ भजंत्री की अध्यक्षता में जेपीएससी प्रतियोगी परीक्षा से जुड़े तैयारियों को लेकर ऑनलाइन बैठक का आयोजन किया गया। इस दौरान उपायुक्त द्वारा जानकारी दी गई 19 सितंबर को आयोजित जेपीएससी प्रतियोगी परीक्षा को लेकर जिले में कुल 36 परीक्षा केंद्र बनाये जायेंगे। ऐसे में सुरक्षा व्यवस्था व परीक्षार्थियों के आवश्यक सुविधाओं को लेकर उपायुक्त ने संबंधित अधिकारियों को आवश्यक व उचित दिशा निर्देश दिया। इसके अलावे बैठक के दौरान उपायुक्त श्री मंजूनाथ भजंत्री ने कहा कि परीक्षा के सफल आयोजन के लिए सभी केंद्राधीक्षक परीक्षा के आयोजन से संबंधित महत्वपूर्ण चेकलिस्ट तैयार कर लें। साथ ही परीक्षा आयोजन से संबंधित गाइडलाइन का अक्षरस: पालन सुनिश्चित हो इसका विशेष रूप ध्यान रखें। आगे उन्होंने कहा कि सभी आपस में समन्वय बनाकर कार्य करें, ताकि किसी भी प्रकार की संशय या समस्या न हो। सबसे महत्वपूर्ण प्रतिभागियों के बैठने के लिए आवश्यक बेंच की व्यवस्था, पेयजल सुविधा, समुचित प्रकाश की व्यवस्था आदि का जायजा लेते हुए सभी केंद्राधीक्षकों को निर्देशित किया गया कि इस संबंध में सभी अपना शपथ पत्र प्रस्तुत करेंगे कि संबंधित केंद्र पर उनका कोई सगा-संबंधी प्रतिभागी परीक्षा में सम्मिलित नहीं हो रहा है।  वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान उपायुक्त श्री मंजूनाथ भजंत्री ने कहा कि बहुत ही महत्वपूर्ण जिम्मेवारी के लिए आपका चयन किया गया है,इसे समझते हुए अपने दायित्व का निर्वहन करें, ताकि सभी के सहयोग से निष्पक्ष रूप से परीक्षा का सफल आयोजन कराया जा सके। साथ ही उन्होंने कहा कि कोविड-19 के नियमों का पालन करते हुए परीक्षा का आयोजन करते हुए परीक्षार्थियों को निर्धारित गाइडलाइन के अनुरूप बैठने की व्यवस्था सुनिश्चित करें, ताकि शांतिपूर्ण और कदाचार मुक्त माहौल में परीक्षा का सफल आयोजन किया जा सके। इसके अलावे उपायुक्त ने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि परीक्षा के दौरान किसी भी प्रकार का इलेक्ट्रॉनिक उपकरण (ब्लूटूथ, मोबाइल, अन्य गैजेट), किसी अन्य के बदले परीक्षा में बैठना या परीक्षा के दौरान नकल करने वालों पर प्राथमिकी दर्ज करते हुए कार्रवाई करें। इस दौरान उपरोक्त के अलावे संबंधित विभाग के अधिकारी आदि उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं