सप्ताहव्यापी भाई-बहन का अनोखा पर्व कर्मा जावा गीत व कर्म डाल पूजन और पारंपरिक लोक अनुष्ठान तथा जावा विसर्जन के साथ हुआ संपन्न!



मधुपुर अनुमंडल के करों में  शनिवार को सप्ताहव्यापी भाई-बहन का अनोखा पर्व करमा प्रखण्ड के  गांवों में जावा गीत व नृत्य , कर्म डाल पूजन अौर परम्पारिक लोक अनुष्ठान तथा जावा विसर्जन आदि विधि-विधान के साथ ही हर्सोल्लास से समापन हो गया। करों प्रखण्ड मुख्यालय के रानीड़ीह,  केन्दबरिया, सिरिया, डिण्डाकोली,बेलकियारी, प्रतापपुर, सालतर, कोलडीह ,कमलकरडीह और भलगढ़ा आदि गांवों में महिलायें करमडाल गाड़कर व जावा उगाकर भाईयों की सुख-समृद्धि व सुरक्षा की मंगल कामनाएँ की । वहीं करों के मंडल टोला , केवट टोला , रजवार टोला और कुम्हार टोला में करमा पर्व को लेकर काफी चहल -पहल देखा गया । 

कुम्हार टोला में सुन्दर ढ़ंग करमडाली और जावा डाली को सजाकर  लोगों को आकर्षित किया । जावा गीत और नृत्य से  लोगों देर राततक मोहित करते रहा । उल्लेखनीय है इस अवसर पर प्रकृति की भी पूजा कर लोग अच्छी फसलों की कामना करते है I करमा परब एक दूसरों से जोड़ती है वहीं प्रकृति से संतुलन बनाकर रहने की भी सींख देती है!

कोई टिप्पणी नहीं