कुलपति से मिलकर शिक्षकों की समस्या रखा :एमएलसी संजीव



गया मगध विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो• राजेंद्र  प्रसाद ने मिलकर शिक्षकों की समस्या संजीव श्याम सिंह ने रखा। विश्वविद्यालय शिक्षकों के विरुद्ध दर्ज प्राथमिकी के संदर्भ में उनके दायित्व से वंचित रखा गया है। पूर्व कुलपति प्रोफेसर डीपी तिवारी ने 20 व्यक्तियों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई थी। इसके पश्चात उन्होंने शिक्षकों के विभागाध्यक्ष पद व पदाधिकारियों से पद मुक्त किया गया था।जद यू के विधान पार्षद संजीव श्याम सिंह ने बताया कि उक्त मुकदमा में सभी अभियुक्तों को न्यायालय द्वारा जमानत मिला हुआ है। उनमें प्रोफेसर मनोरंजन कुमार  सिंह, प्रोफ़ेसर केडी बर्मा, प्रोफेसर सरोज कुमार,प्रोफेसर के डी वर्मा मगध विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर राजेंद्र प्रसाद ने जदयू के विधान पार्षद संजीव श्याम सिंह के सभी बातों को मानकर उचित निर्णय अति शीघ्र लेकर शिक्षकों के साथ न्याय किया जाएगा तथा सभी तरह के मांगों को नियमानुसार पूर्ण कराने का भरोसा दिलाया है। विधान पार्षद संजीव श्याम सिंह ने कुलपति से कहा कि नवनियुक्त सहायक व्याख्याता के लिए राष्ट्रीय पेंशन योजना लागू किया जाए, बिहार लोक सेवा आयोग द्वारा नवनियुक्त सहायक व्याख्याताओं के लिए राष्ट्रीय पेंशन योजना लागू किया जाय एवं बिहार लोक सेवा आयोग द्वारा नवनियुक्त सहायक व्याख्याताओं को भविष्य निधि की राशि को कटौती विश्वविद्यालय उनके वेतन से तो कर रही है। परंतु विश्वविद्यालय अपने पेंशन को जोड़कर जमा नहीं कर रही है। इसके कारण न्यू पेंशन का लाभ शिक्षकों को नहीं मिल रहा है।कुलपति प्रोफेसर राजेंद्र प्रसाद सिंह एमएलसी संजीव श्याम सिंह के सभी बिंदुओं पर विचार करने को कहा तथा निराकरण भी किया जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं