प्रखंड क्षेत्र में धूमधाम से मनाया गया भगवान महावीर स्वामी का जन्मोत्सव, निकाली गई भव्य पदयात्रा



कुंडहित (जामताड़ा ):आठ दिवसीय पर्यूषण कार्यक्रम के तहत आज पांचवा दिन भगवान महावीर स्वामी का जन्मोत्सव धूमधाम के साथ मनाया गया। भगवान महावीर जन्मोत्सव के अवसर पर मंगलवार को कुंडहित जैन मंदिर से एक भव्य पदयात्रा निकाली गई। पदयात्रा कुंडहित जैन मंदिर से गाजा बाजा के साथ निकालकर पुरातन बैंक मोड़ होते हुए बस पड़ाव तक भगवान महावीर स्वामी की जय जयकार के साथ पुनः मंदिर पहुंचा। मंदिर पहुंचकर भगवान महावीर की जन्मोत्सव पर पूजा अर्चना किया गया। इस दौरान श्रावक भाई ईशान दोषी, जितेंद्र भाई, मालव भाई, अजय भाई, श्राविका चार्मी, फाल्गुनी, दृष्टि आदि ने बताया भगवान महावीर स्वामी के जन्मोत्सव पर 14 स्वप्न का दर्शन होता है। यह 14 स्वप्न भगवान की माता को भगवान के जन्म के पहले आए थे। ठीक उसके बाद भगवान का जन्म हुआ। तभी भगवान महावीर के माता ने भगवान को पालने मैं झुलाया था। तभी से आज का दिन प्रति जैन मंदिर में भगवान को पालने में झुलाया और 14 स्वप्न का दर्शन किया जाता है। उन्होंने कहा ऐसी एक मान्यता है कि विवाहित महिला एवं पुरुष के बच्चे नहीं होने पर वह पालने को अपने घर ले जाकर भक्ति भाव से पूजने पर उनके मनोकामना पूर्ण होता है। आठ दिवसीय पर्यूषण कार्यक्रम आयोजन राज परिवार तथा संकित ग्रुप द्वारा किया जा रहा है। पर्यूषण कार्यक्रम के तहत कुंडहित जैन मंदिर में 12 श्रावक भाई तथा 22 श्राविका बहनों ने शाकाहारी खाना खाने की शपथ लिया

कोई टिप्पणी नहीं