जानलेवा बुखार को लेकर बिहार सरकार अलर्ट पर, कई अस्पतालों में चाइल्ड वार्ड फुल



बिहार में वायरल फीवर का प्रकोप बढ़ रहा है और बड़ी संख्‍या में बच्‍चे इसकी चपेट में आ रहे हैं. वायरस फीवर का प्रकोप न केवल यूपी से सटे सीमावर्ती ज़िलों में देखने को मिल रहा हैं बल्कि पटना में भी सभी सरकारी अस्पतालों के चिल्ड्रन वार्ड के बेड भरे हुए हैं. वायरल बुखार बच्चों के लिए जानलेवा साबित हो रहा है. वायरल बुखार के मामले इतनी तेजी से बढ़ रहे हैं कि अब राज्य सरकार अलर्ट बोर्ड में आ गई है. प्रदेश के अंदर बच्चों में वायरल बुखार के बढ़ते मामलों को लेकर सभी मेडिकल कॉलेज अस्पताल, जिला अस्पतालों और प्राथमिक चिकित्सा अस्पतालों को अलर्ट किया गया है. स्वास्थ्य विभाग ने बच्चों के स्वास्थ्य में हो रहे बदलाव को गंभीरता से लेने और उनके इलाज को प्राथमिकता में शामिल करने का निर्देश दिया है.पटना के एनएमसीएच (NMCH), आईजीआईएमएस (IGIMS) और पीएमसीएच में नीकू और पीकू वार्ड के सभी बेड फुल हैं, जहां नवजात से लेकर 12 साल तक के बच्चे सर्दी, खांसी, बुखार, बेचैनी और निमोनिया से परेशान हैं. पीएमसीएच के शिशु वार्ड में भी एक भी बेड खाली नहीं है और अस्पतालों पर दवाब बढ़ गया है.

कोई टिप्पणी नहीं