आस्था और अंधविश्वास का अनूठा दृश्य



सारण l  छपरा जिला के शाहपुर स्थित बकसावा मजार शाह मखदूम बाबा और जलालु पीर बाबा के मजार पर प्रतिदिन सैकड़ों श्रद्धालुओं की भीड़ लगती है मान्यता है कि जिसके ऊपर रूह भूत प्रेत चुरैल चांडाल का प्रकोप होता है वह उससे छुटकारा पाने के लिए बाबा के मजार पर मत्था टेक कर बुरी आत्मा से बुरी आत्मा से छुटकारा पा लेते हैं l

उस मजार पर जब यह संवाददाता पहुंचा तो सर धुनते हुए  और अजब गजब व्यवहार करते हुए  बडबडाते हुए काफी लोग नजर आए जो बुरी आत्मा के चंगुल से बाहर हो जाते हैं वह मजार पर चादर चढ़ाते हैं और प्रसाद भी चढ़ाते हैं जिन्हें बुरी आत्मा ज्यादा परेशान करती है वह लोग परिवार के साथ आसपास के घरों में रहकर अपना सेहत ठीक होने के बाद घर जाते हैं l  21वीं सदी के इस आधुनिक युग में इस तरह का दृश्य अविस्मरणीय और अचंभित कर देने वाला लगा l

तंत्र मंत्र से रोग का निदान

वहीं दूसरी ओर छपरा जिला के कमालपुर गांव ग्राम मे विश्वनाथ भगत नामक तांत्रिक द्वारा तंत्र मंत्र के माध्यम से दूरभाष पर और प्रत्यक्ष रूप से भी कई तरह की बीमारियों से निजात दिलाने का काम करते है यह भी अद्भुत जान पडती है परन्तु यहाँ भी लोगों की भीड़ दिखी l

कोई टिप्पणी नहीं