बीटीएम ने किया सुद्राक्षीपुर पंचायत का दौरा, धान खेत के वर्तमान स्थिति का लिया जायजा



कुंडहित (जामताड़ा):मंगलवार को बीटीएम सुजीत कुमार सिंह के द्वारा कुंडहित प्रखंड के सुद्राक्षीपुर पंचायत मुख्यालय सहित घाटपारुलिया एवम मारभांगा गांव का भ्रमण किया गया। भ्रमण के दौरान बीटीएम ने किसान राजीव गोप, अरुण मंडल, ईश्वर गोप, मंटु गोप, विजय गोप ,पालन गोप सहित कुल 20से 25किसानो से मुलाकात कर धान खेत की वर्तमान स्थिति का जायजा लिया। बीटीएम सुजीत कुमार सिंह ने बताया कि विजय गोप द्वारा खेत में लगे रोग की जानकारी दी गई , जिसे स्टेम बोरेर रोग के रूप में पहचान की गई। साथ ही अनेक खेतो में बोगी रोग भी देखने को मिला । किसानो को उपचार हेतु रिजेन्ट (फिपरोनिल 5 %) 2 मी ली प्रति लीटर के दर से धान की खेत में छिड़काव हेतु सलाह दी गई। क्षेत्र भ्रमण के दौरान किसानो को रबी मौसम में लगने वाले फसल विशेषकर सरसो की खेती हेतु आने वाले 10 दिनों के बाद से तैयारी शुरू करने की सलाह दी गई। सरसो की खेती किसानो के लिए काफी लाभप्रद होता है। किसानो को इसे व्यापक पैमाने पर उत्पाद करने की सलाह दी। बताया कि सरसो की बाजार मूल्य को देखते हुए अच्छी आमदनी की उम्मीद की जा सकती है। किसानो से उनके  द्वारा वर्तमान में खेती में अपनाएं जाने वाले तरीके से भी रूबरू हुए तथा वैज्ञानिक ढंग से खेती करने की सलाह दी गई। सरसो बीज लगाने से पहले बीज को उपचारित अवश्य करने तथा अच्छी क्वाल्टी के बीज का ही प्रयोग करने की बात कही। ऐसा करने से सरसो में लगने वाले रोगों से बचा जा सकता है तथा उत्पादन भी अच्छी होती है। सरसो बीज उपचार हेतु 2 ग्राम कार्बेंडाजिम प्रति किलो बीज के लिए प्रयोग करने की सलाह दी गई। वही 2 किलो बीज प्रति एकड़ खेत के लिए प्रयोग करने की सलाह दी गई।

कोई टिप्पणी नहीं