हरिनाम चैतन्य भागवत कथा का हुआ समापन।



नाला (जामताड़ा)-- गौर धाम आश्रम सीतामढ़ी हरिनाम चैतन्य  भागवत कथा का हुआ समापन। इस पावन अवसर पर श्री श्री 108 स्वरूप दामोदर दास बाबा के मुखरावृन्द से महामंत्र हरेकृष्ण हरे राम नाम की महिमा का वर्णन किया गया। दौरान उन्होंने अपने प्रवचन में कहा कि,' हरे कृष्ण हरे राम नाम जप करने से ही मनुष्य मोक्ष पा सकते है। महामंत्र जप करना ही महायज्ञ हैं। जो व्यक्ति निस्वार्थ हो के प्रभु के ध्यान, जप या सेवा में लीन रहते है, वही व्यक्ति ईश्वर की प्रिय पात्र होते है। मालूम होगी भागवत कीर्तन के पश्चात सभी भक्तो ने महाप्रसाद ग्रहण पुण्य बटोरे । इस धार्मिक अनुष्ठान को लेकर क्षेत्र में भक्तिमय माहौल बना हुआ है। इस धार्मिक अनुष्ठान में मुख्य रूप से दिवाकर सरकार, विजय सिंह, संजीव चक्रवर्ती, कन्हाई सरकार, राधा विनोद मंडल, ठाकुरमणि सिंह, श्रीकृष्ण सिंह, बलराम राय, राम महतो, मदन महंत, बाम  दत्त, श्री मती जोसना दत्त, रूपाली घोष, ममता घोष, मालती  दासी, राधा देवी, सहित अन्य भक्तजन मौजूद थे ।

कोई टिप्पणी नहीं