नमस्कार। आज बात कर रहे हैं गया शहर का।



 यह है टावर चौक जहां को टैंपू मनिहारी की दुकान ठेला का दुकान मिठाई की दुकान गांजा एवं भांग बेचने का दुकान एवं मोटरसाइकिल  कार भी लगाकर अतिक्रमण  जिसके कारण आने जाने यात्री को परेशान होते देखा गया रोड पर अतिक्रमण के साथ दुकान लगाना जुर्म है लेकिन प्रशासन की मिलीभगत के कारण गया में हर मोड़ पर दुकान के साथ गंदगी का आम्बार लगा है  नगर निगम ने डिग्गी तलाई को चारों तरफ से खूबसूरती तलाई को अब अतिक्रमण के साथ दुकान बन गया है शहर के खुबसूरत छीन लिया है। जिसका जिलाधिकारी एवं आयुक्त महोदय के सामने द्वार गंदगी के साथ खूबसूरत एवं तलाई की पानी भी सरोवर की पानी भी गंदगी बना हुआ है। जिसका बार-बार सरकार की योजना आने के बाद भी फेल है। लेकिन खूबसूरती नहीं बन पाया है कारण यह जांच का विषय है ।आज सरकार से मांग करते हैं कि दिग्धी तालाब स्वरूप के अतिक्रमण को हटाकर खूबसूरती एवं नाव चलाया जाए जिसे पर्यटन  घूम सकें।  इस बात को खबर

कोई टिप्पणी नहीं