दो दिनों से हो रहे मूसलाधार बारिश से जनजीवन अस्त व्यस्त वही बिजली व्यवस्था चरमराई



कुंडहित (जामताड़ा): प्रखंड क्षेत्र में चक्रवात गुलाब का असर अच्छी खासी देखने को मिली। जिससे जनजीवन प्रभावित हो गया। वही क्षेत्र में 2 दिनों से लगातार मूसलाधार बारिश होने से आम जनों के जीवन को पूरी तरह प्रभावित कर दिया है । लगातार बारिश से प्रखंड क्षेत्र की नदी उफान पर है ।वही जलाशय  पानी से लबालब हो गया है। खेत में बारिश के पानी जलमग्न हो गए हैं। किसान से लेकर हर वर्ग के लोग इस बारिश से परेशान हो गए हैं। क्षेत्र में लगातार झमाझम मूसलाधार बारिश के कारण जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हो चुकी है ।लोगों को घर से निकलना मुश्किल हो गया है। नदी नाली, कुआं, तलाब, खेत पूरी तरह जलमग्न हो गया है ।वही कुंडहित के शीला नदी ,अंबा के हिंगलो नदी, विक्रमपुर के कुरली नदी उफान पर है। लगातार हो रही बारिश के कारण लोगों के दैनिक कार्य पूरी तरह प्रभावित हो गई है । वही बारिश के कारण प्रखंड क्षेत्र के दर्जनों कच्चे मकान ढह गई है। साथ ही भारी बारिश से प्रखंड क्षेत्र में 24 घंटो से बिजली आपूर्ति सेवा ठप हो गई है । गुरुवार को मूसलाधार बारिश होने से प्रखंड के बाघाशोला गांव  के सनातन सोरेन, मुख्यालय स्थित बाउरी टोला में गब्बर बाउरी , बनकाटी गांव के मिलन बाउरी ,पलाजोरी गांव के डुमरा टोला के तपन माजी का घर ढह गई है।  हालांकि घर गिरने से कोई हताहत नहीं हुआ है लेकिन चारो व्यक्तियों के घर ढह जाने से हजारों के सामान नष्ट हो गया है । क्षेत्र में हो रही मूसलाधार बारिश से किसानों में मायूसी देखी गई वही किसान बहादुर सोरेन पुनः मंडल उसमान मियां , कृष्णा हजारी, वासुदेव मुर्मू ,विनोद मंडल आदि ने बताया कि लगातार बारिश  से खेत में लगे धान के पौधे नष्ट हो गए हैं।। क्षेत्र में लगातार बारिश होने से लोग घर में दिन भर  दुबके रहे, सड़क भी सुनसान रही,लोगों का आवाजाही काफी कम देखी गई। साथ ही भारी बारिश से पालतू पशु गाय ,बैल मवेशियों  बकरी के लिये चारा संकट की स्थिति उत्पन्न हो गया।बहरहाल भारी बारिश से जनजीवन बेहाल है।

कोई टिप्पणी नहीं