संस्कार भारती द्वारा आयोजित श्री कॄष्ण-राधा बाल रूप सज्जा प्रतियोगिता के परिणाम घोषित



देवघर।कला के लिए समर्पित अखिल भारतीय संस्था, संस्कार भारती के देवघर इकाई के द्वारा आयोजित बाल कृष्ण-राधा रूप सज्जा ऑनलाइन प्रतियोगिता के  परिणाम की घोषणा एवं संस्कार भारती के अखिल भारतीय मंत्री अशोक तिवारी के साथ बैठक, बेला बगान  स्थित अंजुला मेन्शन के सभागार में हुई। बैठक की शुरुआत संगीत संयोजिका राज नंदिनी एवम मंत्री अभिषेक सूर्य के द्वारा ध्येय गीत के गायन से हुई। तत्पश्चात अध्यक्ष  अंजनी कुमार मिश्र ने बुके और अंग वस्त्र के द्वारा अखिल भारतीय मंत्री का स्वागत किया और संरक्षक  संजय मालवीय जी ने अध्यक्ष महोदय का स्वागत अंग वस्त्र के द्वारा किया। संगठन मंत्री  राकेश कुमार राय ने स्वागत भाषण देते हुए कार्यक्रम के उद्देश्य की जानकारी दी। सभागार में उपस्थित कलाकारों और दायित्वधारियों को अखिल भारतीय मंत्री जी ने दो सत्रों में संबोधित किया और समाज में कला और कलाकारों के उत्थान के लिये आवश्यक दिशा निर्देश दिया। अध्यक्ष  अंजनी कुमार मिश्र ने कहा कि देवघर इकाई  कला को दर्शन के रूप में प्रस्तुत कर रही है और  कलाकारों के उत्थान के लिये लगातार कार्य कर रही है ।

प्रत्येक वर्ष की तरह इस वर्ष भी बाल कृष्ण-राधा रूप सज्जा प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। वैश्विक महामारी को देखते हुए ऑनलाइन आयोजन किया गया। बच्चे एवं उनके अभिभावकों ने अद्भुत रूचि दिखाते हुए लगभग सौ की संख्या में भाग लिया। कान्हा बाल रूप सज्जा प्रतियोगिता में प्रथम स्थान कोर्नेल ठाकुर, द्वितीय स्थान अनमोल वत्स, तृतीय स्थान रुद्रांश धर केसरी और सांत्वना पुरस्कार अदिति आर्या को मिला वहीं दूसरी ओर राधा बाल रूप सज्जा प्रतियोगिता में प्रथम स्थान नायरा शर्मा, द्वितीय स्थान पाही मुन्दड़ा, तृतीय स्थान रिती शुक्ला और सांत्वना पुरस्कार वंशिका राज को मिला। निर्णायक की भूमिका  श्वेता शर्मा,  अजित केसरी एवं  सुनील विश्वकर्मा ने निभाया। पुरस्कार वितरण समारोह 06 सितंबर 2021, दिन सोमवार, सिद्धी विनायक बैंक्वेट हॉल, होटल ग्रैंड ,स्टेशन रोड , में आयोजित होगा कार्यक्रम में  रामसेवक सिंह, संजय मालवीय,ऋषिराज सिंह, पवन कुमार टमकोरिया,अभिषेक सूर्य, राकेश कुमार राय, रौशन मिश्र,राज नंदिनी,नरेंद्र पंजियारा, अजित केसरी, सुनील विश्वकर्मा, मनोज आर्यन, बीरेंद्र मोहन, झलक मिश्र,प्रियंका, तनुजा,मानस झा, आदर्श,मनन कश्यप, नीरज और चंदन मुख्य रूप से उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं