वीरेंद्र प्रधान का मानसिक संतुलन बिगड़ चुका हैं- आकाश पांडेय।



साहिबगंज:-झारखंड लोकजनशक्ति पार्टी के प्रदेश महासचिव आकाश पांडेय ने प्रेस विज्ञप्ति जारी करके कहा कि झारखंड लोजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष बीरेंद्र प्रधान ने मीडिया बंधुओं को बताया था कि आकाश पांडेय और प्रमोद पासवान को पार्टी से छह साल के लिए निष्काषित कर दिया गया हैं,वो सारी बाते से यह सिद्ध होता हैं कि बीरेंद्र प्रधान का मानशिक स्थिति बिगड़ चुका हैं।आकाश पांडेय ने बताया कि जब लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व केंद्र सरकार के मंत्री पशुपति कुमार पारस जब राष्ट्रीय अध्यक्ष बने,उसके उपरांत ही उन्होंने वीरेंद्र प्रधान को पार्टी से निष्कासित कर दिया था।और झारखंड लोजपा का नया प्रदेश अध्यक्ष विकाश रंजन उर्फ पप्पू सिंह को बनाया,जिसके बाद विकाश रंजन ने झारखंड लोजपा का नया कमिटी का गठन किया और मुझे प्रदेश महासचिव और प्रमोद पासवान को साहिबगंज लोजपा का नया जिला अध्यक्ष नियुक्त किया।श्री पांडेय ने बताया कि जब विकाश रंजन हमारे झारखंड लोजपा के प्रदेश अध्यक्ष हैं तो फिर जिस आदमी को पार्टी और प्रदेश अध्यक्ष दोनों के पद से पहले ही हटा दिया गया,तो बीरेंद्र प्रधान का कोई अधिकार हैं ही नहीं कि हमलोगों को पार्टी से निष्कासित कर सके।बीरेंद्र प्रधान बौखलाहट में ऐसी अनाब सनाव बयान दे रहे हैं ऐसे में यह स्पष्ट होता हैं कि बीरेंद्र प्रधान का मानशिक स्थिति ठीक नही हैं उन्हें इलाज की जरूरत है।वही साहिबगंज लोजपा जिला अध्यक्ष प्रमोद पासवान ने भी बीरेंद्र प्रधान के बयान को दुर्भाग्यपूर्ण बताया।

कोई टिप्पणी नहीं