जसीडीह संथाली मनसा मन्दिर के भूमि का डीएमसी कर्मी ने किया अवैध कब्जा



देवघर नगर निगम के जसीडीह स्थिति संथाली मोहल्ला के पौराणिक माँ मनसा मंदिर की भूमि को नगर निगम कर्मी सतन  राम द्वारा अतिक्रमण कर घर बना लिया गया है साथ ही मंदिर के भूमि पर शौचालय तक का निर्माण करा दिया गया है जिससे मनसा मां के भक्तों में काफी आक्रोश देखा जा रहा है। ज्ञात हो कि  जसीडीह संथाली स्थित मनसा मंदिर काफी पौराणिक है जिससे लोगों के बीच काफी आस्था है। पूर्व में कच्ची मिट्टी का मंदिर हुआ करता था लेकिन 1975 में एक भक्त  दीनानाथ चाँदव ने पक्का मंदिर निर्माण कराया तब से इसकी भव्यता और भी बढ़ गई है । यह मंदिर का भूमि सोखी कहार के नाम से पर्चा में दर्ज है इनके वंशज ही मंदिर का देखभाल, रंग- रोगन एवं वार्षिक पूजा कराते आ रहे थे। इधर नगर निगम कर्मी सतन राम की पत्नी निशु देवी मंदिर के साफ-सफाई व पूजा अर्चना करने को लेकर आई थी।उसकी सेवा भाव देखकर सोखी कहार के वंशजों द्वारा किसी तरह का विरोध नहीं किया गया। जिसका फायदा उठाते हुए सतन राम ने मंदिर के बाकी बचे भूमि पर जबरन अतिक्रमण कर लिया साथ ही मकान भी बना लिया एवं शौचालय का भी निर्माण करा दिया है। इस बार 17 अगस्त को हुई मनसा पूजा के दौरान सोखी कहार के वंशजों को मंदिर से दूर भगाने का भी कार्य किया गया एवं पूजा में शरीक होने भी नही दिया गया। यह मामला जसीडीह थाना एवं अनुमंडल कार्यालय भी पहुंचा लेकिन अभी तक किसी भी प्रकार की कार्यवाही नहीं होने से सोखी कहार के वंशजों में चिंता बढ़ती जा रही है। वही स्थानीय भक्तों में भी आक्रोश गहराता जा रहा है।  सोखी कहार के वंशजो ने इसकी शिकायत मुख्यमंत्री से करने का मन बना लिया है।

कोई टिप्पणी नहीं