राष्ट्रीय नारायणी सेना रक्तदान के लिए युवाओं को करेंगे जागरूक



देवघर।राष्ट्रीय नारायणी सेना के  अध्यक्ष अरूप चक्रवर्ती की अध्यक्षता में  बैठक कर सामूहिक चर्चा हुई जिसमें सभी पदाधिकारी उपस्थित थे और सभी पदाधिकारी ने मुख्य रूप से दो बातो पर विशेष चर्चा किया।

जिसमें रक्तदान के लिए युवाओं को जागरूक करना और जागरूक होना शामिल हैं। वहीं सुगर डेलोशिस् बीमारी पैसेंट को भी फ्री रक्त दिया जाय, इसके लिए उपायुक्त एवं अनुमंडल पदाधिकारी को ज्ञापन देने के बारे में चर्चा की गई।

इस दौरान उसने कहा कि राष्ट्रीय नारायणी सेना द्वारा युवाओं को रक्तदान के लिए जागरूक  किया जा रहा है। रक्तदान के लिए युवाओं को प्रेरित किया जा रहा है कि रक्त की कमी से किसी की जान ना जाए।अगर रक्त दान करने से किसी की जान बचे तो रक्त दान करना चाहिए रक्त हम सभी इंसानों के शरीर में ही बनता है और जब जरूरत पड़ता है तो हम इंसान ही एक दूसरे के सहयोग के लिए साथ खड़े होते हैं। कई संगठनों द्वारा युवा आए दिन किसी ना किसी के जान बचाने के लिए रक्तदान करते आ रहे हैं युवाओं में अगर ऐसे ही सेवा भावना रहे तो कभी भी रक्त के लिए किसी को दिक्कत नहीं होगा। हम युवाओं को यही सेवा भावना लेकर आगे बढ़ना होगा इसलिए हम सभी युवाओं को एक दूसरे  को जागरूक  करना  होगा, और जागरूक रहना भी होगा, रक्तदान से बड़ा कोई दान नहीं होता हैं। आपके रक्त से किसी का जीवन दान मिलता है, जो बहुत पुण्य का कार्य है,  सुगर डेलोशिष् बीमारी पेशेंट को भी रक्त फ्री दिया जाए क्योंकि डेलोशिष् पेशेंट को महीनों में एक  बार रक्त चढ़ाना पड़ता है जिस कारण हर महीना घर के परिजन रक्तदान कर नहीं पाते हैं उनके परिजन को बहुत ही कठिन परेशानी झेलना पड़ता है।  इसलिए इन्हे भी रक्त फ्री देने का उपाय होना चाहिए । रक्त की कमी के वजह से किसी की जान ना जाए  इसके लिए रक्तदान जरूरी हैं।मौके पर उपस्थित महासचिव दीपू राज कौशल सिंह, समीर कर्म्हे, समाज सेवी सुनील कुमार गुप्ता, पूनम प्रकाश सिंह, विश्वजीत राय, गौरव नंदन, राजू वर्मा, अजय सिंह, संजीत वर्मा, राहुल बबली,  राजू कुंजिलवार, ब्रोजो दुलाल चक्रवर्ती, संजय जयसवाल, अमित कुमार झा, रवि रंजन, अंकित कुमार, पुनीत कुमार आदि और सेना के सदस्य उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं