करोड़पति निकला बिहार पुलिस का कांस्टेबल, आरा-पटना में एक साथ 9 ठिकानों पर जारी है रेड



बिहार में भ्रष्टाचार में संलिप्त सरकारी कर्मचारियों के खिलाफ सरकार की कार्रवाई लगातार जारी है. आईपीएस, बिहार प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों समेत डीटीओ और अन्य लोगों के यहां छापेमारी करने के बाद अब बिहार में एक करोड़पति कांस्टेबल के यहां छापेमारी जारी है. बिहार पुलिस की आर्थिक अनुसंधान इकाई ने पटना जिला पुलिस बल के जवान और बिहार पुलिस मेंस एसोसिएशन के प्रांतीय अध्यक्ष कांस्टेबल नरेंद्र कुमार धीरज के 9 ठिकानों पर एक साथ छापेमारी की है.

दरअसल कान्स्टेबल पोस्ट पर तैनात धीरज के विरुद्ध आय से अधिक करोड़ों रुपए की संपत्ति अर्जित करने की शिकायत मिली थी. इस मामले में धीरज के खिलाफ सोमवार को ही आर्थिक अपराध थाना में मामला दर्ज किया गया था जिसके बाद मंगलवार को एक साथ उनके कई ठिकानों पर छापेमारी जारी है. धीरज पर आरोप है कि उसने खुद और परिजनों के नाम पर करोड़ों रुपए की अचल संपत्ति अर्जित की है.

पटना में आलीशान मकान


आय से अधिक संपत्ति से संबंधित शिकायत होने के बाद सिपाही नरेंद्र कुमार धीरज के पटना, आरा मुजफ्फरपुर (भोजपुर) स्थित गांव, अरवल आरा जैसे कई ठिकानों पर रेड चल रही है. ईओयू की इस रेड से प्रशासनिक खेमे में भी हड़कंप मचा है. आरा के एक ही इलाके विष्णु नगर, भेलाई रोड में धीरज के कई भाईयों के प्लॉट और जमीन हैं. पटना के बेउर इलाके में स्थित महावीर कॉलनी में भी जब ईओयू की टीम पहुंची तो आलीशान मकान देखकर दंग रह गई. टीम को धीरज के घर से कई बेशकीमती सामान भी मिले हैं.


इन ठिकानों पर हो रही है रेड


ईओयू की टीम धीरज के पटना स्थित महावीर कॉलोनी बेऊर रोड वाले आवास, भोजपुर के सहार थाना क्षेत्र के मुजफ्फरपुर गांव में पैतृक आवास, अरवल में अरोमा होटल के सामने स्थित मकान जो भाई का है, आरा शहर में भाई सुरेंद्र सिंह के कृष्णा नगर स्थित चार मंजिला मकान और दूसरा 5 मंजिला मकान, एक और भाई विजेंद्र कुमार विमल के आरा शहर स्थित कृष्णा नगर स्थित पांच मंजिला मकान, भाई श्याम बिहारी सिंह का आरा स्थित मॉल, आवासीय मकान, भतीजा धर्मेंद्र कुमार का आरा में आशुतोष ट्रेडर्स नाम की दुकान एक और भाई सुरेंद्र कुमार सिंह के नारायणपुर आरा अवस्थित छड़ सीमेंट की दुकान एवं आवास में रेड कर रही है.

कोई टिप्पणी नहीं