बिजली तार व अन्य उपकरण की चोरी मामले में गिरफ्तार 8 आरोपियों को भेजा गया जेल



सारठ : बिजली तार व अन्य बिजली उपकरण की चोरी मामले में थाना क्षेत्र के दुंदुआडीह, बलथरा व हेठडीह से गिरफ्तार सभी 8 आरोपियों को रविवार को जेल भेज दिया गया। वहीं मामले में पुलिस को मिली सफलता को लेकर सारठ थाने में पत्रकार वार्ता करके पूरे मामले की विस्तार से जानकारी दी गई। जिसमें मधुपुर और पालोजोरी पुलिस इंस्पेक्टर रामदयाल मुंडा व राजेश प्रसाद टुडू द्वारा बताया गया कि बीते दिनों  सारठ विद्युत अवर प्रमंडल के सहायक अभियंता रोशन कुमार के लिखित बयान पर सारठ थाना कांड संख्या 128 /2021दर्ज करते हुए गिरफ्तार सभी आरोपियों का कोविड जाँच कराकर रविवार को जेल भेज दिया गया। वहीं मामले की विस्तृत जानकारी मधुपुर इंस्पेक्टर राम दयाल मुंडा और पालोजोरी पुलिस इंस्पेक्टर राजेश प्रसाद टुडु ने संयुक्त रूप से बताया कि शुक्रवार अहले सुबह गुप्त सूचना पर सारठ पुलिस ने सारठ-देवघर रोड स्थित जोगियाटिकुर गांव के समीप से चोरी की बिजली तार लदा जेएच 04 टी 5462 नंबर की एक मैजिक वाहन को जब्त करके थाने लाई थी।  वहीं वाहन चालक ओझाडीह-गंडा गांव निवासी राजेश पंडित और वाहन मालिक दुंदुआडीह निवासी चक्रधर पंडित को भी गिरफ्तार किया था।वहीं गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ के बाद मामले की जानकारी वरीय अधिकारियों को भी दी गई। जिसके बाद जिला पुलिस कप्तान धनंजय कुमार सिंह के निर्देश पर सारठ एसडीपीओ आमोद नारायण सिंह के नेतृत्व में गठित सारठ, पालोजोरी, चितरा व खागा थाना प्रभारी व सशस्त्र पुलिस जवान ने सामुहिक रूप से छापेमारी करते हुए बीते शनिवार को थाना क्षेत्र के बलथरा गाँव से दो सगे भाई निवास भोक्ता एवं दिवाकर भोक्ता को गिरफ्तार किया गया। वहीं   गिरफ्तार आरोपी के घर से भारी मात्रा में चोरी के बिजली तार और अन्य बिजली के उपकरण को जब्त करके थाना लाई गई। वहीं दुंदुआडीह गाँव से ललन पंडित , सिधेश्वर पंडित, अरबिंद पंडित एवं  हेठ बामनगामा से अनिल झा को गिरफ्तार करके थाना लाया गया था। वहीं जब्त सामानों की कीमत करीब 18 लाख बताई जा रही है। वहीं बताया गया कि मामले में तीन अन्य को भी नामजद आरोपी बनाया गया है जो पुलिस की पकड़ से बाहर है। वहीं पुलिस बिजली तार चोर गिरोह के सरगना की भी तलाश कर रही है। पत्रकार वार्ता के दौरान मौजूद बिजली विभाग के सहायक अभियंता रोशन कुमार व कनीय अभियंता प्रभातेश्वर तिवारी का कहना था कि सारठ विद्युत अवर प्रमंडल क्षेत्र में पिछले छह महीने से लगातार बिजली तार व अन्य उपकरणों की चोरी होने को लेकर संबंधित थाने में मामला दर्ज कराया गया था। वहीं दर्ज मामले में पुलिस ने गंभीरता दिखाई है। वहीं लंबे दिनों से बिजली के उपकरण की चोरी मामले में विभाग के भी कर्मी के संलिप्त होने को लेकर पूछे गए सवाल पर सहायक अभियंता ने पुलिस से जांच करके दोषी पर कड़ी कार्रवाई करने की भी मांग की है। पत्रकार वार्ता के दौरान सारठ थाना प्रभारी करुणा सिंह, एसआइ अनूप पीटर कुजूर, एएसआई विश्वम्भर विश्वकर्मा, सुरेश कुमार रवानी, बिजली कर्मी प्रीतम ओझा समेत अन्य भी मौजूद थे।

कोई टिप्पणी नहीं