आरपीएफ और रेल पुलिस ने संयुक्त रुप से हावड़ा मोकामा ट्रेन में छापेमारी कर स्टाइगर गिरोह के 5 सदस्य को किया गिरफ्तार!



मधुपुर 5 सितंबर मधुपुर रेलवे सुरक्षा बल व राजकीय रेल पुलिस द्वारा संयुक्त रूप से गुप्त सूचना के आधार पर गाड़ी संख्या 03029 अप हावड़ा मोकामा स्पेशल ट्रेन से छापेमारी कर पांच स्टाईगर जुआ के लोभ में फँसा कर रेल यात्रियो को लूटने वाले गिरोह के पांच आरोपी को गिरफ्तार किया है आरपीएफ इंस्पेक्टर एके सरकार ने बताया कि यह लोग लालच देकर जुआ खिलाते थे और जोडा़मो स्टेशन पर यात्रियों से अवैध रूप से पैसे लेते थे। यह लोग ऑटो रिक्शा से विद्यासागर स्टेशन जाते थे और उक्त ट्रेन में जुआ खेलते थे वही आरती है के द्वारा की गई कार्रवाई गुप्त सूचना पर दोषियों को पकड़ने के लिए आरपीएफ व राजकीय रेल पुलिस के द्वारा एक टीम गठित किया गया। और गाड़ी संख्या 03029अप हावड़ा मोकामा स्पेशल एक्सप्रेस ट्रेन में छापेमारी की गई।आरपीएफ इंस्पेक्टर श्री  सरकार ने बताया कि जब ट्रेन विद्यासागर स्टेशन पर पहुंची तो हम लोगों ने देखा कि कुछ संदिग्ध व्यक्ति ट्रेन में चढ़ने के लिए अब प्लेटफार्म पर खड़े हैं तुरंत टीम के सभी सदस्यों को जानकारी साझा की गई। वह लोग एक सामान्य कोच में सवार हुए। हमलोगों के टीम के लगभग सभी सदस्य भी उसी बोगी में सवार हो गए और गतिविधियों को देखने लगे जब ट्रेन विद्यासागर स्टेशन से निकली तो हमने देखा ऐसे पांच व्यक्ति गोटी खेलने लगे जिनमें 2 यात्री के रूप में गोटी और जुआ खेलने लगे। यात्रियों को लालच भी देते हैं इस पर हम लोगों ने पांचों दोषियों को कोच के अंदर चारों तरफ से घेर लिया और उन्हें हिरासत में ले लिया। मौके से ₹320 तीन नंबर की गोटी और ताश भी बरामद की गई। पूछने पर उन्होंने ट्रेन के यात्रियों को विद्यासागर स्टेशन गोटी जुआ खेलने के लिए लालच का अपराध स्वीकार कर लिया और अपनी पहचान का भी खुलासा किया उसके  लूटने वाले गिरोह के पाँच आरोपी को गिरफ्तार किया। वहीं रेल थाना प्रभारी हरेराम दुबे ने बताया कि  गिरफ्तार आरोंपी हसरत परवेज , रजाउल शेख, मो अनवर शेख, व मो० शाहिद शेख मधुपुर थाना क्षेत्र के लालगढ़ निवासी है जबकि एक अन्य आरोपी फैयाज शेख पसिया निवासी है आगे उन्होंने बताया कि  पकड़े गए आरोपी ट्रेन में स्टाईगर जुआ के लोभ में फंसा कर रेल यात्रियों को लुटने काम करता था वहीं पकड़े गए पांचों आरोपियों का कोविड जांच के बाद न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। गठित टीम त्मैं आरपीएफ इंस्पेक्टर इंचार्ज ए के सरकार, सब इंस्पेक्टर विनोद कुमार, एएसआई आरके पांडे, आरक्षी एसपी वर्मा, मुन्ना कुमार, हेड कांस्टेबल एस बिहारी, पीबी सिंह, जीआरपी के हवलदार अब्दुल हाय खान पुलिस मुकेश दास राजेंद्र कुमार सहित अन्य पुलिसकर्मी मौजूद थे!

कोई टिप्पणी नहीं