पिछड़ी जाति को 27% आरक्षण देने की मांग को लेकर भाजपा विधायक ने किया प्रेस वार्ता

 


देवघर।भारतीय जनता पार्टी झारखंड प्रदेश के आदेशानुसार देवघर जिला में आज एक प्रेस वार्ता होटल मनोरमा के सभागार में हुई इस प्रेस वार्ता में मुख्य रूप से उपस्थित देवघर के विधायक सह जिला अध्यक्ष नारायण दास ने की इस वार्ता में नारायण दास ने कहा जेएमएम कांग्रेस ने कहा था सरकार में आएंगे तो 3 महीने के अंदर पिछड़ों को 27 परसेंट आरक्षण देंगे अब 2 वर्ष पूरे होने को चले हैं लेकिन कोई सुगबुगाहट तक नहीं है

एक तरफ कांग्रेस के समर्थन से जेएमएम की सरकार चल रही है दूसरी तरफ धरना भी देती है सरकार में रहने के बावजूद चार चार विधायक मंत्री हैं सरकार में आखिर जनता को क्यों  दिगभ्रमित करती है कांग्रेस

पिछड़ों को जो सम्मान 70 वर्षों में कांग्रेस ने नहीं दिया पिछड़ा आयोग को संवैधानिक दर्जा देने का काम किया आदरणीय मोदी जी ने

डॉक्टर के एडमिशन एमबीबीएस मैं पिछड़ों को 27 परसेंट आरक्षण दिया जो पहले नहीं था बड़े-बड़े वादे और घोषणा चुनाव से पहले जेएमएम और कांग्रेस ने किया था लेकिन धरातल पर कुछ भी दूर-दूर तक दिखाई नहीं पड़ता कांग्रेस एक तरफ सत्ता का मलाई खा रही है और दूसरी तरफ आंदोलन का दिखावा कर पिछड़ों को ढकने का काम भी करती है पिछड़ा समाज इनके बहकावे में आने वाला नहीं है झारखंड का पिछड़ा समाज कांग्रेस और जेएमएम के चाल और चरित्र को बढ़िया से जानती है देश में पहली बार 27 पिछड़े समाज से आने वाले को केंद्र में मंत्री बनाने का काम आदरणीय नरेंद्र मोदी जी ने किया है कॉन्ग्रेस लोगों को सिर्फ सिर्फ थकने का ही काम की है इस कोरोना महामारी के बाद जिस प्रकार सरकार ने मंदिर बंद कर लोगों को झारखंड से पलायन करने को मजबूर कर दिया उस सरकार से और क्या अपेक्षा यहां की जनता रखेगी देवघर के विधायक नारायण दास ने बाबा मंदिर खुलवाने के लिए अनशन पर बैठे शिव तांडव किए धरना प्रदर्शन पर बैठे उसके बाद झारखंड सरकार ने मंदिर को खोला यह सरकार कुंभकरण की नींद रा में सोई है इसको विकास से कोई लेना-देना नहीं  इस प्रेस वार्ता में मुख्य रूप से उपस्थित प्रदेश कार्यसमिति सदस्य संजीव जजवाड़े जिला उपाध्यक्ष राकेश नरोने सुग्गा जिला महामंत्री पंकज सिंह भदोरिया जिला मिडिया प्रभारी सचिन सुलतानिया कोषाध्यक्ष दिलीप सिंह अमनदीप गोलू धनंजय तिवारी इंद्रदेव सिंह प्रदीप वर्मा आदि मुख्य रूप से उपस्थित थे

कोई टिप्पणी नहीं