फर्जी बैंक अधिकारी बन कर ठगी करने वाले 18 साइबर अपराधियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार



देवघर । साइबर थाना की पुलिस ने फर्जी बैंक अधिकारी बन कर  ठगी करने वाले 18 साइबर अपराधी को गिरफ्तार किया है।  साइबर थाना में आयोजित प्रेस वार्ता में मुख्यालय डीएसपी मंगल सिंह जामुदा ने बताया कि एसपी धनंजय कुमार सिंह को  गुप्त सुचना मिली  कि विभिन्न  थाना क्षेत्रो में  इलेक्ट्रॉनिक एप्प्स पर रिवॉर्ड देने व कैश बैक का ऑफर  देकर लोगो को  ठगे जा रहा हैं।  सुचना पर एसपी श्री सिंह ने  मुख्यालय डीएसपी मंगल सिंह जामुदा   के नेतृत्व में छापेमारी टीम  का गठन किया और मारगोमुण्डा थाना क्षेत्र के भेड़वा नावाडीह गांव,  पथरोल  थाना क्षेत्र के  बारा व कुसाहा गांव जसीडीह थाना क्षेत्र के जसीडीह बाजार  व मोहनपुर थाना क्षेत्र  मोरनो  गांव से  छापेमारी कर कुल 18 साइबर अपराधी को गिरफ्तार किया है। उन्होंने बताया कि ये  लोग विभिन्न कस्टमरों को फर्जी मोबाइल नंबर से   केवाईसी अपडेट के नाम पर ठगते हैं साथ ही इलेक्ट्रॉनिक एप्प के साइट पर छेड़छाड़ कर तथा फ़ोन पे कस्टमर को कैश बैक तथा अन्य ई वॉलेट पर कैश बैक व रिवॉर्ड के नाम पर मोटी रकम की कमाई का प्रलोभन देकर उससे ठगी करते थे। इतना ही नही ये लोग फर्जी बैंक अधिकारी बनकर एटीएम बंद होने एवं चालू करने के लिए उसे अपने जाल में फंसा लेते है और उसके मोबाइल पर ओटीपी भेज कर उससे हासिल कर उसके खातों को मिनटों में खाली कर देते हैं। ये लोग  लोगों के आधार कार्ड, एटीएम कार्ड के बंद होने की बात कहकर झांसे में ले लेते हैं और उससे  सीवीवी नंबर,  एटीएम नंबर आदि ले लेते हैं और उसे बड़ी आसानी से  चुना लगा देते हैं। इतना ही नहीं येलोग इतना शातिर है कि विभिन्न प्रकार के इलेक्ट्रॉनिक पेमेंट एप के पर भी मनी रिक्वेस्ट भेज कर उसे ओटीपी ले लेते हैं और उसके खातों को पलक झपकते ही साफ कर देते हैं। येलोग एप्प के  साइट पर जाकर उससे छेड़छाड़ करते हैं और ग्राहक सेवा अधिकारी के नंबर पर अपना नंबर एडिट कर ग्राहकों को बड़ी आसानी से फंसा लेते हैं। वहीं साइबर अपराधी के आपराधिक इतिहास मामले में पुलिस ने बताया कि अभियुक्त कुंदन कुमार व रवि रंजन का आपराधिक इतिहास रहा हैं कुंदन मधुपुर थाना कांड संख्या 135/2105 के आरोप पत्रित आरोपी1 हैं। वही  रवि रंजन गुजरात के जामनगर थाना के एक कांड के आरोपी हैं जो साइबर आरोपियों को 20 प्रतिशत कमीशन लेकर साइबर क्राइम करवाता था हाल में ही अनुसंधान के करसम5में इनकी सलिप्तता आई हैं और इसकी गिरफ्तारी हुई।  वही शेष अन्य के आपराधिक इतिहास की जांच की जा रही हैं। अभी  जानकारी अभी नही मिली हैं।मिलते ही बता  जाएगा  कि ये लोगों का  आपराधिक इतिहास हैं या नही। पूछताछ जारी हैं।

गिरफ्तार साइबर आरोपियों का नाम

गिरफ्तार साइबर आरोपियों में से विकास दास, कुंदन दास,  बिट्टू दास, सचिन दास , बबलु दास, किशन दास, कन्हाई दास, टिंकू दास, निरंजन दास, पंकज कुमार, विमल कुमार, पिंटू कुमार , टिंकू कुमार, अमित कुमार, रवि रंजन, अरमान अंसारी, अतीक व एहसान अंसारी शामिल हैं।

छापेमारी दल में शामिल पुलिस पदाधिकारी व कर्मी का नाम

छापेमारी टीम में मुख्यालय डीएसपी मंगल सिंह जामुदा के अलावे साइबर थाना प्रभारी सुधीर पोद्दार, साइबर इंस्पेक्टर संगीता कुमारी ,   एसआई रूपेश कुमार, अधनु मंडल,   संगीता रजवार, आतिश कुमार तथा अन्य आरक्षी शामिल थे।

कोई टिप्पणी नहीं