मधुपुर रेलवे सुरक्षा बल ने 16 वर्षीय नाबालिग को किया चाइल्ड लाइन को सुपुर्द



मधुपुर रेलवे सुरक्षा बल ने एक 16 वर्षीय नाबालिक को मधुपुर चाइल्ड लाइन को किया सुपुर्द। घटना के संबंध में बताया जाता है कि उत्तर 24 परगना बशरा की 16 वर्षीय नाबालिक को हावड़ा स्टेशन से हावड़ा  रक्सौल मिथिला एक्सप्रेस से अज्ञात महिला के द्वारा नाबालिक को नौकरी का झांसा देकर  भाग रहे महिला के बारे में संदेह हुआ कि वह किसी गलत नियत से लेकर भाग रही है भनक मिलते ही उन्होंने मधुपुर स्टेशन पर उतर गई। जहां रेलवे सुरक्षा बल  ड्यूटी में तैनात आरपीएफ के एएसआई आर के पांडे एसबी पी सिंह आरक्षी बीके मंडल की  नजर उस  नाबालिग पर पड़ा पूछताछ के क्रम में उन्होंने बताया कि हावड़ा से एक महिला मुझे नौकरी का झांसा देकर अपने साथ ले जा रही है भनक मिलते ही हमने मधुपुर स्टेशन में उतर गया उसके बाद रेलवे सुरक्षा बल ने मधुपुर पोस्ट ले आया जहां चाइल्ड लाइन को सूचना देकर बुलाकर बुलाया गया वही सूचना पाते ही चाइल्ड लाइन  टीम पुनीता खाल को भारतीय पोस्ट पहुंची आरपीएफ के सब इंस्पेक्टर देवनाथ कुमार विनोद कुमार के समक्ष 16 वर्षीय नाबालिक  को चाइल्ड लाइन मधुपुर को सुपुर्द कर दीया।जिसके बाद चाइल्डलाइन टीम सदस्य पुनिता खलको  एवंअजय शर्मा के द्वारा बच्ची को RPF से प्राप्त कर सीडब्ल्यूसी देवघर के समक्ष प्रस्तुत किया गया सीडब्ल्यूसी के द्वारा मामले को गंभीरता से लेते हुए जांच पड़ताल कर बच्चे के हित में अगर आवश्यक  कार्रवाई  कि जाने की बात कही गई है साथी विधिवत बच्चों को उनके अभिभावक को सुपुर्द करने हेतु जिला बाल संरक्षण पदाधिकारी मिला कुमारी के द्वारा बच्चों के अभिभावक को सूचना भेजी गई है!

कोई टिप्पणी नहीं