एसडीएम ने मगहाकला पंचायत में लगे चापानल की भौतिक सत्यापन किया।



जमुआ। खोरीमहुआ अनुमंडल पदाधिकारी धीरेन्द्र कुमार सिंह गुरूवार को मगहाकला पंचायत में पिछले वर्ष 2021 में 14 वीं वित्त आयोग की मद से लगाया गया चापानल ,सौलर लाईट , आंगनबाड़ी भवन , आंगनबाड़ी भवन की सौंदर्यीकरण, पंचायत भवन में कुर्सी टेबल,सौलर जल मिनार में बोरिंग लोरिंग एवं गुणवताओ की जांच किया। वर्तमान प्रधान ज़ाकिर हुसैन , पंचायत सेवक रजनीश कुमार, बीडीओ अशोक कुमार, पीएचडी सहायक अभियंता  उद्धव कुमार, कनीय अभियंता मोरंज मुंडा, जमुआ एसबीएम समन्वयक अमित प्रसाद वर्मा की मौजूदगी में पंचायत सचिवालय की सामने  सौकत अली की जमीन पर लगा सौलर जल निर्माण की बोरिंग एवं लोरिंग की जांच किया।लोगों की मौजूदगी में सौलर जल निर्माण की 169 फिट बोरिंग एवं 50 फिट कैसिंग होने की बात सामने  आई है।इसी तरह मगहाखुर्द गांव में मॉडल आंगनबाड़ी भवन, कन्दाजोर में आंगनबाड़ी भवन, काजीमगहा में सोनी खातून की जमीन पर लगा चापाकल,हरिजन कॉलोनी में किसन तुरी की जमीन पर लगा चापाकल की जांच किया।इस सबंध में एसडीओ ने बताया कि  इन सभी योजनाओं की जांच किया गया जिसमें सभी का गुणवता की जांच ठीक ठाक पाया गया।इसकी जांच प्रतिवेदन डीसी सर को प्रेषित किया जायेगा। पिछले बार जब जांच किया गया था उस समय तीन चापाकल की सिर्फ बोरिंग हुआ था।लोरिंग नही किया गया था सौलर जल निर्माण की लोरिंग एवं बोरिंग की नापी नही हो सका था यही कारण है कि आज इन सभी योजनाओं की पुनः जांच की गई है।इधर मगहाकला पंचायत की रहने वाले सह कांग्रेस अध्यक्ष महशर ईमाम ने कहा कि पिछले दिनों खोरीमहुआ एसडीओ की जांच के बाद यहाँ की पूर्व मुखिया शबाना आजमी को निलंबित किया और 15 जनवरी 2021 को उप मुखीया जाकिर हुसैन को पंचायत की मुखिया का शपथ दिलाया गया था।आज बिना किसी तरह की सूचना दिये एसडीओ ने पुनः इन सभी योजनाओं की जांच करने का क्या औचित्य है यह समझ से परे है।इस जांच के विरुद्ध में डीसी से मिलकर पूर्व मुखिया की समर्थन में की जा रही जांच की शिकायत करेंगें।

इधर पूर्व मुखिया शबाना आजमी ने बताया की पिछले दिनों एसडीएम की जांच प्रतिवेदन के विरुद्ध हमने डीसी सर को ग्रामीणों की हस्ताक्षरयुक्त आवेदन दिया साथ ही मुझे निलंबित की जाने को लेकर ग्रामीण विकास मंत्री आलमगीर आलम से पुनः जांच कर मुझें मुखीया पद पर बहाल करने की फरियाद किया था।यही वजह है कि आज एसडीएम ने पुनः जांच करने आया है।

कोई टिप्पणी नहीं