नाला प्रखंड सभागार में हुई प्रखंड स्तरीय बाल संरक्षण समिति की बैठक।



नाला ( जामताड़ा)-- नाला प्रखंड सभागार में प्रखंड स्तरीय बाल संरक्षण समिति की बैठक प्रखंड विकास पदाधिकारी कौशल कुमार की अध्यक्षता में हुई ।आज के इस बैठक में जेएसएलपीएस, बदलाव फाउंडेशन, तेजस्विनी परियोजना, उमंग परियोजना के पदाधिकारी एवं सदस्य भी मौजूद हुए। बैठक में बाल संरक्षण को लेकर विभिन्न बिंदुओं पर चर्चा की गई।इस अवसर पर सभी संस्थानों के द्वारा बाल संरक्षण को लेकर अपने अपने विचार व्यक्त किए गए साथ ही बाल मजदूर के जीवन में बदलाव लाने के लिए क्या-क्या उपाय किए जा सकते हैं ,विभिन्न बिंदुओं पर चर्चा की गई वहीं बाल मजदूरों के समस्याओं के निराकरण को लेकर विभिन्न योजनाओं के क्रियान्वयन के बारे में भी चर्चा की गई। इस अवसर पर बीडीओ कौशल कुमार ने सभी संस्थान के प्रभारियों से बाल संरक्षण को लेकर किए गए विभिन्न गतिविधियों के बारे में जानकारी प्राप्त की साथ ही निर्देश दिया गया कि बाल संरक्षण को लेकर गंभीरता पूर्वक क्षेत्र में कार्य करने की आवश्यकता है। इस अवसर पर कोविड-19 वैक्सीनेशन को लेकर भी चर्चा की गई साथ ही कोरोनावायरस से मृत माता-पिता के बच्चों के प्रबंधन व सरकार द्वारा उसे सहायता प्राप्त कराने को लेकर संस्थान द्वारा उठाए गए विभिन्न कदमों एवं पहल के बारे में भी विचार-विमर्श तथा चर्चा की गई।बाल संरक्षण को लेकर ग्रामीण स्तर पर कमेटी द्वारा विभिन्न जागरूकता कार्यक्रम चलाकर लोगों को भी इसके प्रति सजग रहने एवं बच्चों के अधिकार एवं कर्तव्य का संरक्षण करते हुए उन्हें मुख्यधारा से जोड़ने के लिए भी प्रेरित करने के लिए कहा गया। इस अवसर पर बीडीओ कौशल कुमार ने बाल संरक्षण को लेकर सरकार द्वारा दिए गए गाइडलाइन के अनुसार विभिन्न सुख सुविधाओं एवं प्रावधान के बारे में जानकारी दी गई।आज के इस प्रखंड स्तरीय बाल संरक्षण समिति की बैठक में बीडीओ कौशल कुमार के अलावे प्रमुख जियाराम हेम्ब्रम,  प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ० नदिया नंद मंडल, डॉ० पंकज शर्मा , जेएसएलपीएस के ब्लॉक कोर्डिनेटर गणेश महतो, सीडीपीओ सविता कुमारी, विनीत झा, जिला संसाधन इकाई (ड्राइव) के पार्थ प्रतिम मंडल, तेजस्विनी परियोजना के प्रखंड समन्वयक अर्णव गांगुली, सुकुमार  कुमार, अंजन कुमार महतो, नसीम अंसारी,राम रूप सिंह ,मुन्नी मुर्मु, मामूनी घोष, वनमाला मंडल के अलावे सभी सक्रिय महिला, युवा उत्प्रेरक, आंगनबाड़ी पर्यवेक्षिकाएं आदि मौजूद थे।

कोई टिप्पणी नहीं