मनरेगा कर्मचारी संघ के प्रतिनिधि मंडल ग्रामीण विकास मंत्री से मिलकर ज्ञापन सौंपा



देवघर गुरुवार को झारखंड राज्य मनरेगा कर्मचारी संघ ,झारखण्ड का एक प्रतिनिधिमंडल महेश सोरेन प्रदेश  उपाध्यक्ष के अगुवाई में ग्रामीण विकास मंत्री से मिल कर संघ से जुड़े ज्वलन्त समस्याओं को विस्तार से रख कर इसका समाधान  करने का अनुरोध किया :1.   देवघर जिले के देवीपुर प्रखण्ड के ग्राम रोजगार सेवक महेश्वर महतो ग्राम पोखरिया ,खागा प्रखण्ड -पालोजोरी जिला देवघर की निर्मम हत्या को न्यायिक जांच करा कर दोषियों पर कठोर कार्यवाही की मांग किया ।उक्त रोजगार सेवक घर से कार्यालय आने के लिए निकला था ,मगर रास्ते मे ही हत्या हो गया ।2.   मनरेगाकर्मियों की 11 माह पूर्व सम्पन्न वार्ता का कोई फलाफल नही मिलने के कारण मनरेगा कर्मियों में हो रही असंतुष्टि से अवगत कराकर EPF,बीमा ,मानदेय वृद्धि ,भविष्य सुरक्षा जैसे मुद्दों पर जल्द संकल्प जारी करने का अनुरोध किया ।

3.   ग्रामीण विकास विभाग द्वारा आसन्न प्रखण्ड कार्यक्रम पदाधिकारी और सहायक अभियंता के पदों पर बहलियो में मनरेगा कर्मियों कर्मियों को सेवा काल के बराबर उम्र सीमा में छूट और 50% पदों में आरक्षण की मांग किया ।

4.  सरकार के आश्वशन के बावजूद ग्राम सभा आधारित सामाजिक अंकेक्षण न होकर अन्य से अंकेक्षण कराने सम्बधी विरोध दर्ज किया  गया ।5.  बर्खास्त कर्मियो के संसोधित संकल्प जारी करने तथा अपीलीय प्रावधानों को समय सीमा से बाहर रखने की बात रखी गई  ,यानी कोई बर्खास्त कर्मी कभी भी सक्षम प्राधिकार के पास कभी भी अपील करने सम्बन्धी पत्र जारी करने का अनुरोध किया गया ।6.  वरीय पदाधिकारियों को अनुबंध कर्मियो के साथ मैत्री पूर्ण वर्ताव करने का अनुरोध किया ।हमलोगों ने लगातर सरकार-विभागीय मंत्री ,मनरेगा आयुक्त और सचिव से समन्वय बनाया मगर परिणाम नही मिलने से मनरेगा कर्मियों में काफी रोष है ।

कोई टिप्पणी नहीं