सात दिवसीय विशेष शिविर का तीसरे दिन के लक्ष्य को पूरा करने के लिए स्वंयसेवी छात्र-छात्राओं के साथ गांव भ्रमण किया गया।



राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई-04 कार्यक्रम पदाधिकारी डॉ. राखी रानी, देवघर महाविद्यालय देवघर द्वारा संचालित सात दिवसीय विशेष शिविर का तीसरे दिन के  लक्ष्य को पूरा करने के लिए स्वंयसेवी छात्र-छात्राओं के साथ गांव भ्रमण किया गया। साथ में खरवारी गांव के वार्ड पार्षद  डोली देवी का प्रतिनिधित्व कर रहे पैतर महथा भी थे । ग्रामीण लोगों की समस्याओं को सुना गया।  वार्ड से संबंधित पानी और नाली निकासी की समस्याएं विकट दिखी । सभी महिलाओं ने शौचालय न होने की समस्या को एक स्वर में कहती रहीं। लोगों ने अपनी-अपनी आर्थिक विपन्नता और बेरोज़गारी की समस्याओं को बताया। कार्यक्रम पदाधिकारी डॉ. राखी रानी ने गांव के लोगों को शिक्षा के प्रति जागरूक किया और बेटा और बेटी दोनों के शिक्षा पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि शिक्षित होकर ही गांव के बच्चे विवेकशील हो सकते हैं। विवेकशील बच्चे ही आज की बिखरी हुई गांव की तस्वीर बदलेंगे। कार्यक्रम पदाधिकारी ने वार्ड पार्षद के प्रतिनिधि से उनकी समस्याओं के समाधान करने की दिशा में पहल को कहा। इस गांव में लगभग 120  घर हैं तथा यहां की आबादी लगभग 500 तक है। समस्या वार्ता में मीना देवी बासंती देवी, सुशीला देवी, उषा देवी और पुरुष भी उपस्थित थे। वहां से लौटने के बाद स्वयं सेवियों ने सफाई का कार्य किया ।

कोई टिप्पणी नहीं