धारदार हथियार व लाठियों से जानलेवा हमला



जसीडीह।पुरानी रंजिश में कुल्हाड़ी व लाठियों से लैस आधा दर्जन हमलावरों ने सोमवार को ग्राम सिंहजोरी के राहुल कुमार राय पर हमला कर दिया।

जिसके चलते माथे पर गम्भीर घाव हो गए,

उसे बचाने दौड़ा चचेरा भाई चंदन कुमार राय जब हमें बचाने आया तो हमलावरों ने उसके बाया हाथ में प्रहार किया जिससे उसका हाथ पूरी तरह से जख्मी हो गया है।घायलों को जसीडीह थाना लाए जाने पर पुलिस ने सदर अस्पताल भेज दिया है। पीड़ित की तहरीर पर केस दर्ज कर लिए गए है।

जसीडीह थाना में दिए आवेदन पत्र में राहुल कुमार राय ने  जिक्र किया है कि में राहुल कुमार राय, पिता उमेश प्रसाद राय, ग्राम सिंहजोरी,पोस्ट पुनासी ,थाना जसीडीह, जिला देवघर का हूं। उन्होंने आगे जिक्र किया है कि सोमवार 12 बजे अपने घर से बाहर गांव के काली मंडा की ओर जा रहा था। इसी बीच गांव के ही कमल कांत राय उर्फ अजीत राय, पिता वरुण प्रसाद राय, संदीप कुमार राय, पिता वरुण प्रसाद राय, वरुण प्रसाद राय,पिता स्वर्गीय इंद्रनारायण राय ,अवध किशोर राय, पिता स्वर्गीय अमरनाथ राय ,राहुल कुमार राय, पिता अवध किशोर राय, राजेश कुमार राय, पिता स्वर्गीय जय प्रकाश राय, जय कांत कुमार, राय पिता स्वर्गीय जय प्रकाश राय, धनंजय कुमार राय, पिता स्वर्गीय जयप्रकाश राय, रामचंद्र राय,पिता स्वर्गीय इंद्र नारायण राय, ज्योतिंद्र कुमार राय उर्फ पिंटू पिता रामचंद्र राय सहित अन्य करीब 10 की संख्या में अज्ञात लोगों द्वारा मेरे साथ मारपीट करने लगे। सर्वप्रथम कमला कांत राय द्वारा मेरे ऊपर धारदार हथियार कुल्हाड़ी से मेरे माथा पर वार कर दिया, जिससे मेरा माथा पूरी तरह से फट गया एवं लहूलुहान हो गया। इसी बीच संदीप कुमार राय ने मेरे माथा एवं शरीर पर रॉड से प्रहार कर दिया गया इसी बीच मेरा चचेरा भाई चंदन कुमार राय पिता नवीन चंद्र राय जब हमें बचाने आया तो अवध कुमार ने रॉड से उसके बाया हाथ में प्रहार किया जिससे उसका हाथ पूरी तरह से जख्मी हो गया। साथ ही वरुण कुमार राय, पिता स्वर्गीय इंद्र देव राय एवं जय कांत राय ने लाठी डंडा एवं घुसा से मारना प्रारंभ कर दिया। उन्होंने बताया कि जब मेरे चाचा नवीन चंद्र राय बचाव में आए तो धनंजय कुमार राय एवं संदीप राय ने उन्हें मारना प्रारंभ कर दिया, इसी बीच राहुल कुमार राय पिता अवध प्रसाद राय ने मेरे गले में पहना करीब 1 भरी का चैन छीन कर भाग गया।इसी बीच रामचंद्र राय एवं उसके पुत्र ज्योतिंद्र राय ने मेरे पॉकेट से 10 हज़ार रुपया छीन कर भाग गया।पीड़ित के परिजनों के मुताबिक पुरानी रंजिश को लेकर हमले की वारदात की गई। घायल को जसीडीह थाना जाने पर पुलिस ने उन्हें सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है।जहाँ से पीड़ित घायल को रेफर कर दिया गया है।

कोई टिप्पणी नहीं