इलाज के अभाव में महिला की हुई मौत, विधायक ने किया आर्थिक सहयोग



सारठ : थाना क्षेत्र के फूलचुवां पंचायत के बेहरा गांव में इलाज के अभाव में 33 वर्षीय महिला की हृदय गति रुकने से रविवार को मौत हो गई। घटना को लेकर मृतक महिला चंचला देवी के पति प्रमोद रजवार ने बताया कि उनकी पत्नी हृदय रोग से ग्रसित थी, लेकिन घर की माली हालत खराब रहने की वजह से वो पत्नी का समुचित इलाज नही करा पा रहा था। वहीं बताया कि वो विकलांग रहने की वजह से नियमित रूप से मजदूरी का काम भी नहीं कर पाता है और विकलांगता पेंशन भी उन्हें नहीं मिलता है। राशन कार्ड नहीं बनने से उनका परिवार मुफ्त मिलने वाले अनाज से भी वंचित है। इधर घटना की खबर मिलने पर गांव पहुंचे विधायक रणधीर सिंह ने मृतक के परिजनों को ढाढस बंधाते हुए तत्काल अपने स्तर से 10 हजार का सहयोग दिया। वहीं सरकारी स्तर से भी हर संभव सहयोग का भरोसा दिया। विधायक ने मृतक के पति से कहा कि जल्द आपको पेंशन और राशन कार्ड उपलब्ध कराया जायेगा। वहीं घर की जर्जर स्थिति देख पीएम आवास का लाभ दिलाने का भी आश्वाशन दिया। मृतक महिला के पति ने रोते हुए कहा कि पत्नी चली गई और मुझ विकलांग के सिर पर तीन बच्चे का भरण-पोषण का भार भी सौंप गई। मृतक महिला की करीब 15 वर्ष का एक पुत्र और 12 व 10 वर्ष की दो पुत्री भी है। जिसका रो-रो कर बुरा हाल था। वहीं विधायक परिजनों के साथ शवयात्रा में शामिल होकर घाट भी गये और दाह-संस्कार में भी शामिल हुए। मौके पर समाज सेवी अजीत कुमार यादव समेत कई अन्य मौजूद थे और सभी ने घटना पर गहरा दुख जताते हुए हर संभव सहयोग का भरोसा मृतक के परिजनों को दिया।

कोई टिप्पणी नहीं