घोलजोड़ में बीमार बंदर (हनुमान) को ग्रामीणों ने इलाज कराकर मानवता का दिया परिचय।



नाला (जामताड़ा)-- गुरुवार को घोलजोड़  में ग्रामीणों ने बीमार बंदर (हनुमान) का इलाज कराकर मानवता का परिचय दिया। एक बेजुबान जानवर के प्रति इतनी सहानुभूति, सेवा भाव मानवता का ही परिचय है। मालूम हो कि घोलजोड़ गांव में एक बंदर (हनुमान )ठंड से कराह रहे थे, वह काफी कष्ट एवं दुख में था, उसकी स्थिति मरणासन्न हो चुकी थी। इसे देख ग्रामीणों ने फौरन पशु चिकित्सक को बुलाकर उसका इलाज और सेवा सुश्रुषा प्रारंभ की। ग्रामीणों ने नाला के पशु चिकित्सक डॉक्टर शर्मा को बुलाकर उक्त पीड़ित एवं बीमार बंदर (हनुमान)का इलाज करवाया और हाथ पैर में तेल मालिश सहित विभिन्न तरह से उसकी सेवा सुश्रुषा की। इस संबंध में पशु चिकित्सक डॉक्टर शर्मा ने बताया कि पिछले कई दिन काफी तेज बारिश के कारण ठंड लग जाने से इसकी नशें  बैठ गई है। मालूम हो कि  वहां से होकर गुजरने वाले राहगीरों ने भी अपनी सेवा -प्रदान की। मौके पर आयेन माजी,  वरुण माजी, मिलन अधिकारी , डबरू मिर्धा,  गंगाधर मोहली, सुब्रत माजी, नंदलाल मिर्धा , जगतमय माजी, लव माजी आदि सबों ने मिलकर पीड़ित बंदर (हनुमान) का समुचित इलाज करा रहे हैं ।

कोई टिप्पणी नहीं