कांग्रेस ने केंद्र सरकार के खिलाफ पेट्रोल पंप पर हस्ताक्षर अभियान चलाया



देवघरः सोमवार को कांग्रेस कमिटी द्वारा डीजल-पेट्रोल, रसोई गैस एवं घरेलू सामानों के मूल्यों में अप्रत्याशित वृद्धि को लेकर केंद्र सरकार के खिलाफ राष्ट्रव्यापी आंदोलन के तहत पेट्रोल पम्पों पर हस्ताक्षर अभियान चलाया गया। देवघर शहर में जिलाध्यक्ष मुन्नम संजय के नेतृत्व में टावर चौक स्थित साईं फ्यूल पेट्रोल पम्प पर तथा रेलवे स्टेशन रोड में विश्वनाथ एंड कंपनी पेट्रोल पम्प पर हस्ताक्षर अभियान चलाया गया। जहाँ सैकड़ों वाहन चालको एवं आम जनों महिला तथा पुरुषों ने हस्ताक्षर अभियान में अपना हस्ताक्षर महंगाई का विरोध में दर्ज किया। हस्ताक्षर अभियान चलाते हुए जिला अध्यक्ष मुन्नम संजय ने कहा कि संपूर्ण भारत में मोदी सरकार में डीजल-पेट्रोल, रसोई गैस एवं घरेलू सामानों के दामों में बेतहाशा बढ़ोतरी हुआ है। जिसके कारण आज देश में महंगाई आसमान छू गई है। देश के सैकड़ों शहर में पेट्रोल का मूल्य 100 के पार हो चुका है। जनता बढ़ती महंगाई के मार से त्राहिमाम कर रही है। दो माह में करीब 29 बार से अधिक पेट्रोल और डीजल के दामों में केंद्र सरकार के द्वारा वृद्धि किया गया है। डीजल पेट्रोल के मूल्य में इजाफा के कारण घरेलू सामानों के दामों में बढ़ोतरी हो गया है। ईंधन के साथ घरेलू सामानों के कीमतों में चौतरफा वृद्धि को लेकर हमारी पार्टी ने राष्ट्रव्यापी आंदोलन छेड़ा है।आज के हस्ताक्षर अभियान से यह देखने को मिला कि देश के हर नागरिक वर्तमान केंद्र सरकार के नीतियों के खिलाफ ही नहीं काफी आक्रोशित हैं। महंगाई के कारण लोग अपने दैनिक व जरूरत के सामान को खरीद पाने में असमर्थ हो चुके हैं। कोरोना के मार से उबर नहीं पा रहा है वहीं राहत के बजाए मंहगाई की मार ने कमर तोड़ कर रख दिया है।वहीं निर्दयी और निर्मोही केंद्र सरकार सरकारी खजाना की लूट में व्यस्त हैं।आम जनों के दुख दर्द से निष्ठुर एवं बेदर्दी बन बैठे हैं। ऐसे में देश के जनविरोधी मोदी सरकार से हमारी मांग है किदेश की जनता पर तरस खाते हुए डीजल-पेट्रोल एवं रसोई गैस तथा घरेलू सामानों के मूल्य की वृद्धि को अविलंब वापस लें। तेजी से हो रहे मूल्य बढ़ोतरी पर अंकुश लगाऐं और देशवासियों को महंगाई की चंगुल से निकालने का काम करें।

इस मौके पर पूर्व जिला अध्यक्ष राजेंद्र दास, सेवादल के अजय कुमार, मीडिया प्रभारी दिनेश कुमार मंडल, नगर अध्यक्ष रवि केसरी, एनएसयूआई के रवि वर्मा, बाबा यादव,पंकज भारती, अनिरुद्ध चौबे, अधीर वर्मा आदि मौजूद थे।

कोई टिप्पणी नहीं