एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन



नारायणपुर(जामताड़ा):प्रखंड मुख्यालय स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र नारायणपुर में शुक्रवार को डायरिया नियंत्रण कार्यक्रम और ब्रेस्ट फीडिंग ओरियंटेशन को लेकर एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया| आयोजित उक्त प्रशिक्षण में बतौर प्रशिक्षक सीएचसी नारायणपुर के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ अरविंद कुमार दास ने कहा कि शिशु के लिए मां का दूध ही सर्वोत्तम है |इस बात को सभी मातृत्व तक पहुंचाना है |उन्होंने कहा कि ऐसी महिलाएं जो गर्भवती हैं एवं स्तनपान की योजना बना रही हो उन्हें स्तनपान के महत्त्व को बारीकी से समझाना है ताकि स्तनपान से शिशु का पूर्ण विकास हो सके| उन्होंने कहा कि स्तनपान करने से शिशु स्वस्थ रहता है |स्तनपान करने से मातृत्व और शिष्य के बीच परस्पर स्नहे  में भी वृद्धि होती है |उन्होंने कहा कि सभी एएनएम गर्भवती महिलाओं एवं मातृत्व को स्तनपान हेतु प्रेरित करें एवं स्तनपान कराने की सही विधि को बारीकी से बताएं |स्तनपान से होने वाले लाभ को साझा करें| वही डायरिया नियंत्रण कार्यक्रम के संबंध में जानकारी देते हुए सीएचसी नारायणपुर के चिकित्सा पदाधिकारी डॉ केदार महतो ने कहा कि अभी वर्षा ऋतु   है| पानी दूषित होने की संभावना इस समय प्रबल हो जाती है |जिस कारण डायरिया जैसी बीमारी के फैलने का खतरा बना रहता है |आगे उन्होंने बताया कि आगामी 1 अगस्त से 15 अगस्त तक 0 से 5 वर्ष के आयु वर्ग के बच्चों को ओआरएस तथा जिंक की  खुराक देनी है ताकि डारिया जैसे बीमारी से बचाव हो सके| इस अवसर पर डॉ अर्पिता बेरा, बीपीओ अखिलेश कुमार सिंह ,स्वास्थ्य कर्मी प्राणेश मिश्रा ,महेश प्रसाद, प्रफुल्ल रवानी समेत प्रखंड के एएनएम उपस्थित थे|


नारायणपुर से कुमार निकेश की रिपोर्ट

कोई टिप्पणी नहीं