वृद्धा आश्रम एवं सरस कुंज में रह रहे बुजुर्गों व बच्चों से मुलाकात कर उपायुक्त ने अधिकारियों को दिए आवश्यक दिशा निर्देश



उपायुक्त-सह-जिला दण्डाधिकारी  मंजुनाथ भजंत्री द्वारा देवघर जिला अन्तर्गत चाँदडीह वृद्धा आश्रम व सरस कूंज पहुँचकर बच्चों व बुजूर्गों से मुलाकात कर उन्हें मिल रही सुविधाओं एवं कोविड टीका लगवाने की वस्तुस्थिति से अवगत हुए। साथ ही बुजुर्गों व बच्चों के बीच फल एवं चॉकलेट का वितरण उपायुक्त द्वारा किया गया। इस दौरान उपायुक्त द्वारा वृद्धा आश्रम में मिलने वाली स्वास्थ्य सुविधा के अलावा रसोईघर, स्नानघर एवं शौचालयों की साफ-सफाई और बंदोबस्ती का जायजा लिया गया। साथ हीं मौके पर उपस्थित संबंधित अधिकारियों को निदेशित किया कि फोगिंग, ब्लीचिंग छिड़काव, साफ-सफाई के साथ कोविड नियमों के अनुपालन पर विशेष रूप से ध्यान रखे, ताकि सभी यहाँ रहने वाले सभी का स्वास्थ्य बेहतर बना रहे। इसके अलावे उपायुक्त  मंजूनाथ भजंत्री ने संबंधित अधिकारियों व आश्रम के संचालक को निदेशित किया कि वृद्धा आश्रम में रहे बुजुर्गों के देखाभाल के साथ-साथ उनकी नियमित स्वास्थ्य जांच कराते रहें। आगे आश्रम के बुजुर्गों से बातचीत करते हुए कहा उपायुक्त  मंजूनाथ भजंत्री ने कहा कि अध्यात्म के साथ गीत-संगीत के माध्यम से हमारे जीवन की निरसता में कमी आती है एवं हम सभी में एक नई स्फूर्ति व ऊर्जा का संचार होता है। ऐसे में आवश्यक है कि आप सभी अपने जीवन में गीत-संगीत को महत्व देते हुए ऊर्जावान रहें व दूसरों को भी प्रेरित करें। साथ हीं उपायुक्त द्वारा कहा गया कि आप सभी लोगों के सहयोग हेतु जिला प्रशासन द्वारा हर संभव प्रयास किया जा रहा है एवं हमारी यह कोशिश है कि यहां रहने वाले सभी बुजुर्गों को सभी आवश्यक मुलभूत सुविधाएं ससमय उपलब्ध हों एवं उन्हें किसी प्रकार की कठिनाई का सामना न करना पड़े। 

■ किताबी ज्ञान के अलावा व्यवहारिक ज्ञान पर दे विशेष ध्यान:- उपायुक्त  मंजुनाथ भजंत्री

इसके अलावे उपायुक्त  मंजूनाथ भजंत्री ने सरस कुंज के बच्चों व बुजूर्गों के चीत कर उन्हें मिल रहीे सुविधाओं व व्यवस्थाओं से अवगत हुए। साथ ही संबंधित शिक्षकों को उपायुक्त ने निर्देशित किया कि बच्चों को किताबी ज्ञान के अलावा व्यवहारिक ज्ञान भी देने की बात कही, ताकि बच्चों में अभी से हीं अच्छी आदतों को विकसित करते हुए उनका सर्वांगीण विकास किया जा सके। आगे उपायुक्त ने मौके पर उपस्थित अधिकारियों एवं शिक्षक व शिक्षकेतर कर्मियों को निदेशित किया कि बदलते मौसम को देखते हुए रहने वाले बुजुर्गों और बच्चों के सुविधा का हर संभव ध्यान रखा जाए एवं इस बात का विशेष ध्यान रखा जाए कि बच्चों के देखभाल में किसी प्रकार की कमी न हो।  निरीक्षण के पश्चात उपायुक्त  मंजूनाथ भजंत्री ने जिलावासियों से आग्रह करते हुए कहा है कि हम सभी का यह प्रयास होना चाहिए कि हम अपने समाज व समाज में रहने वाले लोगों के लिए कुछ अच्छा करें। कभी- कभी किये गए छोटे-छोटे हीं परंतु सार्थक प्रयास औरों को ढ़ेर सारी खुशियां दे जाती है।  ऐसे में हम सभी का यह प्रयास होना चाहिए कि हम सभी अपने दिनचर्या से कभी कभी समय निकालकर इन बच्चों के उत्साहवर्धन में अपना सहयोग अवश्य करें। इस दौरान उपरोक्त के अलावे जिला समाज कल्याण पदाधिकारी  कनक तिर्की, सहायक जनसम्पर्क पदाधिकारी रोहित कुमार विद्यार्थी एवं संबंधित संचालक, कर्मी आदि उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं