झाछामो के आंदोलन से सहमा कालेज प्रशासन, बनाया चार सदस्यीय कमिटी, आंदोलन स्थगित : चंदन



देवघर। मंगलवार को  झारखण्ड छात्र मोर्चा ने लगातर दुसरे दिन भी 1 बजे तक अपना आन्दोलन जारी रखा। देवघर कॉलेज के भ्रष्ट कर्मचारियों को हटाने तथा अन्य समस्याओं के समाधान हेतू झारखण्ड छात्र मोर्चा पिछ्ले 2 दिनों से आन्दोलन कर रही थी। झारखंड छात्र मोर्चा की प्रमुख मांगे निम्न है। भ्रष्ट कर्मचारियों को निष्कासित किया जाए जिसने से प्रमुख नाम प्रसादी मंडल, नजरे आलम एवं नवीन कुमार सिंह है। इंटरमीडिएट के छात्र दीपक कुमार का एडमिट कार्ड एवं प्रैक्टिकल एग्जाम का प्रबंध किया जाए। जितने भी पेंडिंग मार्कशीट है उसमें सुधार किया जाए। एक स्टाफ एक ही पद पर कार्यरत रहे। यूनिवर्सिटी के जो भी स्टाफ इग्नू में काम कर रहे हैं उसे उसके पद से हटाया जाए। देवघर कॉलेज का वेबसाइट प्राइवेट कैफे के हाथों में ना देकर कॉलेज प्रशासन अपने अंदर रखें। ऑनलाइन क्लास रोजाना संचालित किया जाए एवं विद्यार्थियों के लिए एक हेल्पलाइन नंबर जारी किया जाए।

परीक्षा फॉर्म भरने के दौरान कई बच्चों का वेबसाइट नहीं खुलता है इस पर भी ध्यान दिया जाए। कॉलेज प्रशासन अगर हमारी मांगों को पूरी नहीं करते हैं तो झारखंड छात्र मोर्चा फिर से आंदोलन करने के लिए बाध्य होगी।

 झारखंड छात्र मोर्चा के आंदोलन को देखते हुए आज कॉलेज  प्राचार्य की ओर से एक  चार सदस्यीय कमिटी का गठन किया गया जिसके सदस्यो में डॉ महेश कुमार सिंह,डॉ सीएस आजाद,

एच सी रंजन, एम रंजन शामिल है। कमिटी अपना रिपोर्ट 7 दिनों में देगी। इसके बाद झारखंड छात्र मोर्चा ने अपना आंदोलन लिए स्थगित कर दिया है। झारखंड छात्र मोर्चा ने देवघर जिला के उपायुक्त को  को भी एक इस विषय में आवेदन सौंपा। इस आंदोलन का नेतृत्व देवघर कॉलेज अध्यक्ष चंदन कुमार ने किया मौके पर  देवघर जिला कॉलेज प्रमुख संजय मेहरा, सचिव करण पांडे ,उपाध्यक्ष प्रमोद चौधरी,मीडिया प्रभारी चंदन मेहरा, जिला मीडिया प्रभारी जय नारायण दास नगर अध्यक्ष अश्विनी सिंह ,राकेश  मेहरा, आदित्य मिश्रा,अजय यादव,आदि उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं