राष्ट्रीय नारायणी सेना के सदस्य पंचानंद राणा और राकेश मिश्रा ने दो यूनिट रक्तदान कर बचाई दो जरूरतमंदों की जान



सर्वप्रथम राकेश मिश्रा ने अपना बी पॉजिटिव  रक्तदान कर देवघर नौलखा निवासी राजीव रंजन सिंह का जान बचाया

वहीं दूसरी ओर देवघर चित्तौड़िया निवासी पंचानंद राणा अपना ओ पॉजिटिव रक्तदान कर बचाई अपने मां की जान

देवघर नौलखा निवासी राजीव रंजन सिंह को किसी प्राइवेट हॉस्पिटल में डेलोसिस होना था  उनका परिजन में रक्तदान करने वाला कोई नहीं था इनकी सूचना राजीव रंजन के परिजन द्वारा राष्ट्रीय नारायणी सेना जिला अध्यक्ष अरूप चक्रवर्ती को दिया

अध्यक्ष अरुप चक्रवर्ती ने अपने  ने कहा कि आज राष्ट्रीय नारायणी सेना के सदस्यों द्वारा बहुत ही जरूरतमंद को आए दिन रक्तदान करते आ रहे हैं और खुशी तब होता है जब जरूरतमंद के लिए कोई अपना खड़ा होता है

और आज पंचानंद राणा ने यह साबित कर दिखाया कि अपनी मां की तबीयत बिगड़ने से ओ पॉजिटिव रक्त की जरूरत पड़ी और मां के लिए बेटा तत्पर्य खड़ा रहा  

इससे युवाओं को सीख भी मिलता है की रक्तदान के लिए अपने घर परिवार के सदस्य भी जरूरत पड़ने पर परिवार के लिए रक्तदान करें

मौके पर महासचिव दीपू राज, समाजसेवी सुनील कुमार गुप्ता, समीर कर्महै, अविनाश कुमार, विश्वजीत सिंह, राजू वर्मा, राजू कुंजवाल, राहुल बबली आदि उपस्थित थे

कोई टिप्पणी नहीं