मंत्री हफीजुल ने बाबासाहेब की प्रतिमा का किया अनावरण

 


देवघर प्रखंड के चांदडीह पंचायत बसमता गांव में देश के संविधान रचयिता भारत रत्न डॉ.भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा का अनावरण सुबे के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री हाफिजुल  हसन के करकमलों द्वारा हुआ। कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि देवघर उपायुक्त मंजूनाथ भजंत्री, पुनरुद्धारकर्ता कांग्रेस जिलाध्यक्ष मुन्नम संजय एवं अंबेडकर पुस्तकालय देवघर के अध्यक्ष सेवानिवृत्त उप विकास आयुक्त रामदेव दास शरीक हुए। अंबेडकर युवा क्लब बसमता के द्वारा भव्य कार्यक्रम आयोजित किया गया।कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मंत्री हफीजुल हसन ने कहा कि बाबा भीमराव अंबेडकर शोषित,पीड़ित बेजुबान,अशिक्षित,दलित व पिछड़ों के मसीहा थे।जिन्होंने समाज की कुरुतियां, विसंगतिया और भेदभाव को मिटाकर विवधताओं तथा अनेकताओं के भारत को एक सूत्र में पीरोते हुए समतामूलक समाज एवं शासन की परिकल्पना किया था। जिसके साथ भारत को एक वृहत, सुंदर और लचीला संविधान मिला। उन्होंने कहा था शिक्षित बनो,संगठित रहो और संघर्ष करो। बाबा साहब ने महिलाओं के उत्थान के लिए भी महत्वपूर्ण योगदान दिया। महिलाओं को संपत्तियों में उत्तराधिकारी का अधिकार दिया। उनका कहना था कि किसी समुदाय की प्रगति उस समुदाय में महिलाओं की प्रगति से आकलन किया जाता है। आज मैं अगर इस क्षेत्र का विधायक हूँ और इस प्रदेश का मंत्री हूँ तो उसमें बाबा साहब के विचारों को मानने वाले लोगों का विशेष सहयोग और समर्थन प्राप्त हुआ है। हमारे द्वारा डॉ.भीमराव अंबेडकर, सिद्धू कान्हों एवं भगवान बिरसा की प्रतिमा का रखरखाव एवं एवं उनके आदम कद मुर्तियों का अनावरण प्रमुख स्थलों पर किया जा रहा है और किया जाएगा। यहाँ भी हमें जल्द जमीन उपलब्ध कराऐं। हम बाबा साहब का एक सुंदर प्रतिमा का अनावरण करेंगें। साथ ही मधुपुर में भी एक अम्बेडकर पुस्तकालय की स्थापना की जाएगी। बाबा साहब के संदेश को आगे बढ़ते हुए उन्होंने कहा कि समाज को आगे बढ़ाने तथा विकसित करने के लिए शिक्षित होना अनिवार्य है। हमें शिक्षित बनने व बनाने के लिए हर दिन पढ़ना पड़ेगा। कृषि को आगे बढ़ाने के लिए हर दिन मिट्टी को कोड़ना पड़ेगा। हम सबका दायित्व है कि हम दबे,कुचले अविकसित समाज को मुख्यधारा में लाने का प्रयास करें। हमारे पास कला एवं संस्कृति तथा युवा एवं खेल मामले का भी विभाग ह। जिसका भरपूर उपयोग हम समाज को कला एवं संस्कृति के साथ खेल के क्षेत्र में आगे बढ़ाने के लिए करेंगें।

 देवघर उपायुक्त मंजूनाथ भजंत्री ने कहा कि यहाँ पूर्व स्थापित बाबा साहब के आदम कद मूर्ति को असामाजिक तथा अपराधिक तत्वों द्वारा विखंडित करने का निंदनीय, शर्मनाक तथा अपराधिक कृत किया गया है, जो क्षमा योग्य नहीं है। देवघर आरक्षी अधीक्षक को ऐसे तत्वों को जल्द गिरफ्तार कर कानून के तहत कड़ी से कड़ी सजा दिलाने को कहा जाएगा। बाबा साहब भारत संविधान निर्माता समिति के अध्यक्ष थे। जिन्होंने पूर्ण अध्ययन कर काफी परिश्रम से देश के हर जाति धर्म एवं समाज के हित में एक सुंदर संविधान की रचना की है। वो एक महान योद्धा नायक, दार्शनिक, विद्वान, वैज्ञानिक,धैर्यवान समाजसेवी व्यक्तित्व के धनी थे। आज हमें उनके बताए गए मार्ग पर चलने की आवश्यकता है। साथ ही कहा कि आज देश कोरोना के तीसरे लहर की दहलीज पर खड़ा है। हमें स्वस्थ एवं सुरक्षित रहने के लिए अति संवेदनशील बनना पड़ेगा। कोविड के नियमों का कड़ाई से अनुपालन करना  पड़ेगा। मास्क का उपयोग हर हालत में सभी करें और भीड़-भाड़ से बचें।खासकर बच्चों को सुरक्षित रखने का प्रयास सभी अभिभावक अनिवार्य रुप से करें। तभी हम इस महामारी से अपनी जंग जीत सकते हैं।

 देवघर अंबेडकर पुस्तकालय के अध्यक्ष सह सेवानिवृत्त उप विकास आयुक्त रामदेव दास ने बाबा साहब के संदेशों को रखा एवं कहा कि हम उनके अनुयाई हैं, उनके विचारधारा को मानने वाले हैं। हमारा दायित्व है कि हम संगठित होकर समाज को आगे ले जाऐं। जिस प्रकार बाबा साहब मानवाधिकार, दलित आदिवासी उत्थान, छुआछूत,जाति पातिं, ऊंच-नीच,भेदभाव जैसे सामाजिक कुरीतियों को मिटाने के लिए मनुस्मृति दहन, महाड़ सत्याग्रह,नासिक सत्याग्रह किए थे।उसीप्रकार हमें भी अपना प्रयास जारी रखना पड़ेगा। 

वही प्रतिमा के पुनरुद्धारकर्ता कांग्रेस जिला अध्यक्ष मुन्नम संजय ने धन्यवाद ज्ञापन करते हुए बाबा साहब को प्रखर व अग्रणी नेता तथा महान स्वतंत्रता सैनानी बताया और कहा कि बाबा साहब शिक्षा जगत में विश्व के युवाओं के प्रेरणा स्रोत बने। जिनके नाम के साथ 26 उपाधियां जुड़ी हुई हैं। आज उनके संदेश एवं उनकी प्रतिमा को घर-घर तक पहुंचाने की जरूरत है और हर देशवासीयों को उनके बताए गए मार्ग पर चलने की आवश्यकता है।

मंच का संचालन जिला कांग्रेस के मीडिया प्रभारी दिनेश कुमार मंडल ने किया।

इस मौके पर अवधेश प्रजापति, विपिन यादव,देवघर प्रखंड विकास पदाधिकारी जितेंद्र यादव, गोपाल दास,महेश कुमार लंकेश, सुधीर दास, नंदलाल पंडित, मनोज चौधरी, कमरुद्दीन अंसारी, लियाकत अली, गुलाब फूलधरिया, मोहम्मद सगीर, उपेंद्र नारायण चौबे, महादेव पंडित, अनिरुद्ध चौबे, डोमन यादव, कामदेव यादव, विकास दास, अंबेडकर युवा क्लब बसमता के अध्यक्ष सुभाष दास, राजेश दास, कांग्रेस कुमार,श्रीराम दास, विजय पासवान, मनीष कुमार, बबलू पासवान, चंदन दास,संजय दास, विष्णुदेव दास, प्रवेज आलम, सरफराज अंसारी, अमित दास,रमेश मंडल, जय राम मंडल, नंदकिशोर मंडल, मुकेश पंडित, बहुजन आर्मी के कृष्ण कुमार, श्रवण दास, पवन दास, बिट्टू राव,दशरथ दास आदि मौजूद थे

कोई टिप्पणी नहीं