देवघर जिले में पहलीबार पैडी ट्रान्सप्लान्टर से होगी धान की खेती:बीटीएम



देवघर।बाबा नगरी में खेती में मशीनीकरण का अधिकतम प्रयोग करके धान की फसल की खेती करके किसानों को कोरोना काल में हुई क्षति का भरपाई करने का प्रयास किया जा रहा है। सरकार भी किसानों की हर समस्या का समाधान करने के लिए कृत संकल्पित है।कृषि निदेशक निशा भी कृषि और किसानों की हर समस्या का हल करने के लिए झारखण्ड के एटीएम/बीटीएम और अन्य कर्मियों के क्रियाकलापों का प्रतिदिन मॉनिटरिग कर रहीं हैं। यह जानकारी बीटीएम अशांक शेखर ने दी।विदित हो कि देवघर प्रखंड के चुनासी पंचायत के पुनासी गाँव में जिला परिषद अध्यक्ष संतोष पासवान के पुस्तैनी खेत में अन्नपूर्ण सीड्स के संचालक .निलेश कुमार झा  पीबीटीएम अशांक शेखर के साथ पहुँचे जहाँ बीटीएम खुद धानका बीच फ्रेम में डालकर किसानों को इस विधि से होने बाले फायदे के बारे में बताया।जिला परिषद उपाध्यक्ष संतोष पासवान ने बताया कि इस विधि का प्रयोग पहली बार मैं अपनी   खेत में करा रहा हूँ।देखा-देखी और लोग इस विधि को अपनायेंगे तो और ज्यादा रहेगा। चूंकि किसान सबसे ज्यादा प्रकृति का मार झेलते है। वही कम्पनी के संचालक निलेश झा ने बताया कि देवघर जिले में लगभग 250 एकड़ में पहली बार इस विधि का प्रयोग करा रहे हैं, जबकि बिहार में यह तकनीकी प्रचलित है। किसानों को इस तकनीक के बारे में विस्तृत जानकारी खेत में आकर दी गई। उन्होंने बताया कि देवघर के किसान इस तकनीक का अधिकतम लाभ लेकर मुनाफा कमा सकते हैं।

कोई टिप्पणी नहीं