मनरेगाकर्मियों ने सरकार पर लगाया वादा खिलाफी का आरोप



देवघर रविवार को झारखण्ड राज्य मनरेगा कर्मचारी   संघ ,झारखण्ड के राज्य कमिटी की की वर्चुवल बैठक जूम एप पर महेश सोरेन प्रदेश उपाध्यक्ष की अध्यक्षता में हुई जिसमें पूरे प्रदेश के 100 से अधिक मनरेगाकर्मियों  जुड़े और 43 कर्मचारियों ने चर्चा में भाग लिया । बैठक के मुद्दों पर परिचय बंसन्त सिंह ,पूर्व प्रदेश अध्यक्ष ने विषय प्रवेश कराया,उदय प्रसाद ,अध्यक्ष संसदीय सलाहकार समिति ने संघ का अधतन प्रतिवेदन पस्तुत किया ।डॉ राजेश कुमार दास ने संघ द्वारा सरकार के साथ किये गए 10 महीनों के पहल पर विस्तार से लोगो को बताया ।

बैठक में पारित प्रस्ताव 

1.संघठन में निष्क्रिय पदधारियों के स्थान पर जल्द कर्मठ लोगों को चयन कर सशक्त राज्य कमिटी का विस्तार होगा तथा नए  पदाधिकारी की चयन दिनांक 11/7/21 तक करने का निर्णय लिया गया ।

2. जल्द विभागीय अधिकारी गण से मिलकर वार्ता में तट विन्दुओ को लागू करने अनुरोध किया जाएगा ।

3.आसन्न नियुक्तियों मनरेगाकर्मियों के  समायोजन  हेतु सोसल मीडिया पर अभियान चलाया जाएगा ।5.हड़ताल के दौरान हुई वार्ता की पूर्ति के लिए विभागीय मंत्री से मिलकर दबाब बनाया जाएगा । 6. आसन्न विधानसभा सत्र के पूर्व सभी विधायकों के पास अपनी मांग और सरकार के वादा खिलाफी का पत्र सौप कर जल्द स्थायीकरण हेतु विधानसभा सत्र में मांग उठाने का अनुरोध करेंगे ।7.इसके साथ सत्तारूढ़ दल के जिला अध्यक्षो के नाम एक पत्र लिखकर सरकार के गलत दिशा में जाने की सूचना देकर नाराजगी जाहिर करेंगे ।8.अगस्त के प्रथम सप्ताह तक कोई सकारात्मक परिणाम नही आने पर झारखण्ड राज्य अनुबन्ध कर्मचारी महासंघ ,झारखण्ड के साथ मिलकर सभी स्थानीय विधायको के घर घेरा डालो डेरा डालो का कार्यक्रम करने पर विचार किया जाएगा ।9.संघ की गतिविधियों को तेज करने के लिए सभी प्रमंडलों में बैठक कर बर्खास्त क्रर्मियों की वापसी हेतु प्रमंडलीय आयुक्त को ज्ञापन देने का निर्णय लिया गया ।

10. संघ विरोधी गतिविधियों में शामिल लोगों को चिन्हित कर  सरकार को उचित करवाई हेतुं सूचित किया जाएगा । बैठक में  बोकारो से विश्वनाथ महतो ,धनबाद से डॉ तस्लीम ,मनोज पाण्डेय ,गिरिडीह से विनोद विश्वकर्मा,मो यासीन ,गोड्डा से पुरषोत्तम ,देवघर  अजय सिंह ,सुरेश किस्कु इत्यादि ने भाग लिया।

कोई टिप्पणी नहीं