अनाउंस के बावजूद प्राइवेट बस स्टैंड में सवारी गाड़ियों की संख्या दिखी कम



देवघर- राज्य सरकार के निर्देश के बाद बृहस्पतिवार 1 जुलाई से सवारी बसों के परिचालन का आदेश दिया गया है इस आदेश के बावजूद देवघर बस स्टैंड पर गाड़ियों की संख्या काफी कम दिखा। वही इस संबंध में देवघर जिला बस एसोसिएशन के अध्यक्ष दिनेशानन्द झा ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा की सरकार आदेश तो दे दी है किंतु सवारी गाड़ी के परिचालन को व्यवस्थित करने में अभी भी बस ओनर को कम से कम 1 सप्ताह का समय लगेगा ।

प्रायःगाड़ी गेराज वगैरह में खड़ी है जिसके सर्विसिंग वगैरह कराने में भी गाड़ी मालिकों को काफी पैसा खर्च करना पड़ेगा। अभी तो एनाउंस हुआ है ।सवारियों को भी इसकी जानकारी होने के बाद ही वे कहीं आवागमन के लिए निकलेंगे।

जबकि लॉकडाउन के समय गाड़ी मालिकों के साथ साथ उस पर आश्रित सैकड़ों परिवारों  के समक्ष आर्थिक रूप से संकट खड़ा हो चुका है। पूर्व के वर्ष में सरकार ने जिस प्रकार आदेश दिया था 2 सीट पर एक सवारी उसी अनुसार लॉकडाउन के समय भी वाहनों को चलाने का आदेश देना था पर ऐसा नहीं हुआ जबकि छोटी छोटी गाड़ियों में ज्यादा से ज्यादा संख्या में यात्रियों को चढ़ाकर कोरोना को आमंत्रित किया गया।

न टैक्स में कोई रियायत मिला है और न हीं किसी प्रकार की मालिकों के लिए कोई पैकेज दी गई है जब की यह होना बहुत जरूरी था।वहीं नगर निगम से भी बस स्टैंड की साफ-सफाई लाइट की व्यवस्था और लगातार हो रही छिनतई की घटनाओं पर लगाम लगाने की बात कही है।

कोई टिप्पणी नहीं