युवा समाजसेवी सूरज तिवारी के प्रयास से मिली पीड़ित शकुंतला देवी को ब्लड



देवघर।रांची रिम्स में भर्ती गिरिडीह जिले के जमुवा थाना अंतर्गत गादीनवाडीह पंचायत के चोरगट्टा गाँव निवासी शकुंतला देवी जो रांची के रिम्स में 10 दिनों से समुचित इलाज हेतु भर्ती थी जिनके शरीर में खून की कमी के अलावा नए रूप से शरीर में ब्लड नहीं बन रहा था, जिससे पीड़ित महिला को काफी परेशानी हो रही थी, रिम्स के डॉक्टर ने मामले की गंभीरता को देखते हुए परिजनों को जल्द से जल्द 4 यूनिट नया खून चढ़ाने का सुझाव दिया, डॉक्टर के अनुसार मरीज के शरीर में नए खून नहीं बनने की वजह से पीड़ित महिला को बचाना खतरे से खाली नहीं था,इनको 4 यूनिट नए ब्लड चढ़ाने की अत्यंत आवश्यकता थी, तभी पीड़ित महिला की जान बच पाती, पीड़ित महिला को 3 यूनिट ब्लड की व्यवस्था उनके परिजनों द्वारा रक्तदान कर दिया गया था।अब एक यूनिट ब्लड नहीं मिलने से पीड़ित महिला के परिजन काफी चिंतित थे, इसकी जानकारी रांची के दृष्टि आई अस्पताल के संचालक प्रवीण ओझा ने तुरंत देवघर जिले के मधुपुर क्षेत्र अंतर्गत रांगासिरसा निवासी सभी के मसीहा समाजसेवी सूरज कुमार तिवारी को मिली। सूरज तिवारी को जैसे सूचना मिली, उन्होंने बिना विलंब किये तुरंत अपने मित्र देवीपुर प्रखंड के बरगुनिया निवासी उदय कुमार भूमियार को एक यूनिट जल्द से जल्द ब्लड व्यवस्था करने का आग्रह किया। उदय भूमियार ने तुरंत रांची निवासी के ब्लड डोनर अतुल गेरा को देते हुए रांची रिम्स में भर्ती पीड़ित महिला शकुंतला देवी को जल्द एक यूनिट ब्लड कहीं से जुगाड़ कर दिलवाने का आग्रह किया, अतुल गेरा ने काफी मित्रों से संपर्क किया, लेकिन ब्लड डोनर नहीं मिला तब अतुल गेरा ने मामले की गंभीरता को देखते हुए रांची सदर अस्पताल को सूचना देते हुए एक यूनिट ब्लड पीड़ित महिला के परिजनों को अतिशीघ्र देने का आग्रह किया, रांची सदर अस्पताल में ब्लड बैंक से परिजनों को ब्लड मिलते ही सभी दुःखी परिजन खुशी में तब्दिल होते हुए सभी को धन्यवाद कहा है। इस नेक कार्य में भरपुर साथ देने के लिए सूरज तिवारी ने इसका पुरा श्रेय उदय भूमियार को धन्यवाद करते हुए इसमें अहम भूमिका निभाने वाले अतुल गेरा को सूरज तिवारी ने हृदय से आभार जताया है।

कोई टिप्पणी नहीं