स्टार फिटनेस क्लब के द्वारा डॉक्टरों को किया गया सम्मानित।



डॉक्टर्स डे के अवसर पर स्टार फिटनेस क्लब के संचालक गौरव शांडिल्य के  द्वारा देवघर के जाने-माने चिकित्सक डॉ एन सत्यम और डॉ निशांत चौरसिया को सम्मानित किया गया। संचालक श्री शांडिल्य ने कहा कि डॉक्टर्स को हमेशा से भगवान का दर्जा दिया जाता रहा है. ऐसा इसलिए भी है, क्योंकि वो हमेशा अपने वक्त और जान की परवाह किए बगैर अपने मरीजों की जान बचाने की जी-तोड़ कोशिश करते हैं. कोरोना काल में डॉक्टर्स ने जिस मुस्तैदी के साथ कोरोना वारियर्स की भूमिका निभायी है वो वास्तविकता में याद रखने योग्य है. कोरोना काल में डॉक्टरों द्वारा दिए गए योगदान को दुनिया सलाम कर रही है. वही मौके पर डॉ निशांत ने कहा कि कोरोना के दौरान उन्होंने जो ड्यूटी की उसे वे किसी पर एहसान नहीं मानते बल्कि अपना कर्तव्य बताते हैं. उन्होंने कहा कि इससे उन्हें आत्मसंतुष्टि मिली है. डॉक्टर्स डे के मौके पर उन्होंने सलाह देते हुए कहा कि डॉक्टर एक सम्मानित पेशा है और भविष्य में भी यह रहना चाहिए. लेकिन हमें अपने कर्तव्यों को नहीं भूलना है. वहीं डॉ सत्यम ने कहा कि  डॉक्टर भी एक आम इंसान है। डॉक्टर वह इंसान है जो एक मरीज व उसकी मौत के बीच खड़ा होता है। हम यह कोशिश करते हैं कि मरीज हमारे यहां से स्वस्थ होकर लौटे। मौके पर विशाल कश्यप भी मौजूद थे।

कोई टिप्पणी नहीं