अज्ञात चोरों ने खिड़की का ग्रिल तोड़कर करीब डेढ़ लाख के जेबरात की चोरी की, घटना की जांच में जुटी पुलिस



सारठ : थाना क्षेत्र के सबैजोर पंचायत के देवली गांव में बीते शनिवार की रात्रि को खिड़की का ग्रिल तोड़कर जेवरात व नगदी की चोरी करने का मामला सामने आया है। घटना को लेकर पिड़ित रंजीत राय ने बताया कि आज सुबह जब सोकर उठा तो देखा कि हमारे अहाते का दक्षिण दिशा का दिवाल का कुछ हिस्सा टूटा हुआ है। वहीं खिड़की का ग्रिल भी चोखट से उखाड़ कर नीचे फेंक दिया है। तभी कमरे का दरवाजा खोलकर देखा तो घर में रखा बक्सा गायब था, जो मेरे छोटे भाई बाबूधन राय की पत्नी रूपा देवी का था। बताया गया कि बक्सा में सोने का हार, बाउटी, रानी बालि, नाक में पहनने का, बजरंगबली का लाकेट एवं दो जोड़ी चांदी का पायल समेत 12 हजार नकद एवं अन्य कागजात और कपड़ा था।

वहीं चोरी की सूचना पर सारठ थाना की पुलिस पहुंचकर छानबीन कर रही थी। इसी बीच सूचना दी गई कि एक बक्सा सबैजोर तरफ बहियार में फेंका हुआ है। फिर हम सभी बक्सा फेंके हुए जगह भी पहुंचे एवं पुलिस द्वारा थाना प्रभारी करूणा सिंह को बक्सा मिलने की जानकारी दिये जाने पर थाना प्रभारी भी वहां पहुंचकर लोगों से पूछताछ किया। बक्से में रखा जेवरात व 12 हजार नकदी गायब था। इस संबंध में सारठ थाने में लिखित सूचना दी गई है।

बताते चलें कि बीते सप्ताह देवली से सटे सबैजोर स्थित दुर्गा मंदिर से लाखों रुपए की कीमत वाली अष्टधातु की मूर्ति व स्कूल में भी चोरी हुई थी और पुलिस घटना की छानबीन में जुटी थी, तभी अज्ञात चोरों ने एक ओर घटना को अंजाम देकर पुलिस को चुनोती दे डाली है। यह भी बता दें कि भुगतभोगी रंजीत राय का साला सब इंस्पेक्टर है जो दुमका जिले के मसलिया थाना में पदस्थापित हैं।

कोई टिप्पणी नहीं