मधुपुर क्षेत्र में भीबीडी संबंधित जन जागरूकता एवं जांच कार्यक्रम किया जा रहा है!



मधुपुर अनुमंडलीय  अस्पताल मधुपुर के उपाधीक्षक डॉक्टर मोहम्मद शाहिद के निर्देशानुसार मधुपुर में पदस्थापित सभी  भी बी डी  कर्मियों   MPW एवं एमटीएस द्वारा मलेरिया रोधी माह जून मैं निरंतर  भी बी डी अंतर्गत होने वाली बीमारियों जैसे मलेरिया फाइलेरिया डेंगू कालाजार जापानी इंसेफेलाइटिस  संबंधित जन जागरूकता कार्यक्रम मधुपुर अंतर्गत क्षेत्रों में कर रहे हैं साथ ही  मलेरिया लक्षण वाले व्यक्तियों का आरडीके किट द्वारा ऑन द स्पॉट जांच कर रहे हैं साथ ही क्षेत्र में सतत  निगरानी रख रहे हैं ताकि बीमारी   जन समुदाय में फैलने से रोका जा सके लोगों को जागरूक करते हुए बताया गया कि  जून माह में संभवतः मानसून प्रवेश कर जाती है मानसून प्रवेश करते ही मच्छर का प्रकोप बढ़ जाती है  तथा  भीबीडी अंतर्गत होने वाली बीमारियां संक्रमित मच्छर के काटने से होती है इसलिए जून माह मैं विशेष तौर पर बचाव हेतु सावधानियां बरतने की अति आवश्यकता होती है   कलहाजोर कियाजोरी घघरजोरी सहित विभिन्न  सुदूर ग्रामीण क्षेत्र में ग्रामीणों को जागरूक करते हुए आरडीके किट द्वारा जांच किया गया ग्रामीणों को बताया गया कि अपने आसपास गंदगी व जलजमाव नहीं होने दें  चुकी मच्छर जमा पानी में अंडा देती है और इस प्रकार मच्छर की तादाद बढ़ती है जो  बीमारी का वाहक है इससे बचना चाहिए पूरा शरीर ढका हुआ कपड़ा पहनना चाहिए शाम के समय दरवाजा और खिड़की बंद कर देना चाहिए ताकि मच्छर प्रवेश नहीं कर सके तथा नीम का पत्ता आदि  को जलाने से भी मच्छर भागता है  साथ ही सभी से विशेष तोर  पर अनुरोध किया कि दिन हो या रात हो जब भी सोए हैं मच्छरदानी का उपयोग जरूर करें सतर्क रहें सुरक्षित रहें ग्रामीणों को यह भी जानकारी दिया गया   कि तेज बुखार आना माथा में दर्द चक्कर आना अचानक बुखार आना और उतर जाना कमर दर्द कपकपी आदि लक्षण हो तो अपने सहिया दीदी को शीघ्र सूचित करें या अनुमंडलीय अस्पताल मधुपुर में आकर अपना जांच अवश्य कराएं कार्यक्रम में एमटीएस तपन कुमार एमपीडब्ल्यू संजीव कुमार, राजीव रंजन,अजय कुमार दास, विनोद कुमार दास, राकेश कुमार, जानकी देवी, मेहसर खातून, सुफेदा खातून आदि थे !

No comments