शहीदों की शहादत को उपायुक्त ने किया नमन



शहादत दिवस के अवसर पर आज दिनांक-16.06.2021 को शहीद स्थल रोहिणी में उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी  मंजूनाथ भजंत्री द्वारा शहीद सलामत अली, अमानत अली एवं शेख हारून को श्रद्धांजलि अर्पित की गई। इस दौरान उपायुक्त ने झंडोत्तलन कर शहीदों की प्रतिमाओं पर माल्यार्पण कर उन्हें नमन किया।

इसके उपरांत उपायुक्त द्वारा स्वतंत्रता सेनानियों एवं उनके परिवार के सभी सदस्यों का आभार व्यक्त करते हुए आदर पूर्वक शाॅल देकर सम्मानित किया गया। 

शहादत दिवस के अवसर पर अपने संबोधन में उपायुक्त  मंजूनाथ भजंत्री ने कहा कि देश की आजादी के लिए कुर्बान हुए शहीदों की कुर्बानियों से हम सभी को प्रेरणा लेने की आवश्यकता है। सबसे महत्वपूर्ण अन्याय के खिलाफ आवाज, नारी की रक्षा के लिए संकल्प, अज्ञानता मिटाने की दिशा में अपना योगदान देकर सही अर्थों में महान शहीदों को श्रद्धांजलि होगी। हमारे शहीदों की अमूल्य शहादत ने राष्ट्रभक्ति की एक अनूठी गाथा लिखी। ऐसे वीर देशभक्तों के दिखाए मार्ग पर चलना ही हमारी सच्ची श्रद्धांजलि होगी। आजाद भारत में अगर हम साँस ले पा रहे हैं तो सिर्फ व सिर्फ अपने वीर शहीदों की वजह से जिन्होंने अपने प्राणों की प्रवाह किये बिना हमारे बेहतर कल हेतु अपन जीवन न्यौछावर कर दिया। उन्होंने उपस्थित लोगों को वीर शहीदों के बलिदान से प्रेरणा लेते हुए बेहतर भविष्य के निर्माण में सहयोग करने के साथ देश को सम्पन्नता की ओर ले जाने में सभी को अपना योगदान देने की बात कही। साथ ही शहीदों के आदर्शों को अपने जीवन में आत्मसात करते हुए उनके सपनों का भारत बनाये तभी सही मायने में उनका बलिदान सफल होगा।

इसके अलावे उपायुक्त  मंजूनाथ भजंत्री ने कहा कि देवघर एक पर्यटन नगरी है यहां देश-विदेश से पर्यटकों का आना होता है। जिले के अन्य पर्यटन स्थल यथा-नन्दन पहाड़, रिखिया आश्रम, तपोवन, त्रिकूटी पहाड़ इत्यादि जितने प्रसिद्ध है उतना ही रोहिणी शहीद स्थल पार्क प्रसिद्ध है। हमें उसे और बुलंदी पर ले जाने हेतु वृहद स्तर पर प्रचार-प्रसार करना आवश्यक है; जिससे यहां आने वाले पर्यटकों को इसकी जानकारी हो तथा ज्यादा से ज्यादा संख्या में यहां पर्यटक आकर्षित होते हुए इनके इतिहास को जान सके। 

इस दौरान उपायुक्त ने सभी से अपील करते हुए कहा की कि अपने घरों के साथ-साथ सार्वजनिक जगहों की साफ-सफाई में भी अपना योगदान दे, ताकि हमारा शहर भी हरा-भरा और स्वच्छ रहे। सबसे महत्वपूर्ण वर्तमान में कोविड नियमों का अनुपालन और कोविड का टीका लगवा कर खुद को अपने परिवार को सुरक्षित रखें, ताकि संक्रमण की चैन को तोड़ा जा सके।

कार्यक्रम के दौरान उपायुक्त  मंजूनाथ भजंत्री ने कहा कि कोरोना के संक्रमण को देखेते हुए कार्यक्रम को छोटा रूप दिया गया है जिसमें जिलें के वरीय पदाधिकारियों एवं स्वतंत्रता सेनानियों के परिवारों को ही बुलाया गया है। साथ ही सामाजिक दूरी का ख्याल रखते हुए कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। ऊपायुक्त ने समिति के सदस्यों से कहा कि इस पार्क के बेहतरी के लिए जो भी करना पड़े करें और इसे और भी गैरवशाली बनाएँ जिलां प्रशासन द्वारा हर संभव मदद की जाएगी।

इस दौरान मौके पर उपरोक्त के अलावे कई स्वतंत्रता सेनानी एवं उनके परिजन, उप विकास आयुक्त, नगर आयुक्त, अनुमंडल पदाधिकारी, प्रशिक्षु आई.ए.एस, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी, नजारत उपसमाहर्ता, गोपनीय प्रभारी, सहायक जनसंपर्क पदाधिकारी, जनप्रतिनिधि एवं समिति के सम्मानित सदस्यगण आदि उपस्थित थे।    

कोई टिप्पणी नहीं