देवघर एयरपोर्ट का नाम विनोदानंद झा या बाबा बैद्यनाथ अंतर्राष्टीय एयरपोर्ट रखने की माँग जोरों पर।

 


देवघर- अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सदस्य मणिशंकर ने मांग किया है कि देवघर एयरपोर्ट का नाम विनोदानंद झा इंटरनेशनल एयरपोर्ट होना चाहिए। उन्होंने आरोप लगाया है कि कुछ भाजपा नेता एयरपोर्ट के नामकरण और उद्घाटन से संबंधित गलत बयानबाजी कर राजनीतिक रोटी सेकना चाहते हैं। पिछले वर्ष सितंबर माह में केंद्रीय नागरिक उड्डयन राज्यमंत्री हरदीप सिंह पुरी देवघर एवं दरभंगा के निर्माणाधीन एयरपोर्ट की कार्य प्रगति देखने के उपरांत घोषणा किया था कि दोनों एयरपोर्ट नवंबर 2020 में शुरू हो जाएगा। हालांकि बिहार चुनाव में वोट बटोरने के लिए दरभंगा एयरपोर्ट का उद्घाटन तो हो गया लेकिन झारखंड केंद्र सरकार द्वारा सौतेला व्यवहार का शिकार हुआ और आज तक देवघर एयरपोर्ट का उद्घाटन नहीं हो पाया। मणिशंकर ने कहा कि मोदी सरकार के केंद्रीय मंत्री द्वारा झूठी घोषणा करना शर्मनाक है। मणिशंकर ने दावा किया है कि देवघर एयरपोर्ट 90% तैयार हो चुका है। लेकिन भाजपा नेता चापलूसी के तहत शीर्ष नेताओं के सामने अपनी नंबर बढ़ाने के लिए एयरपोर्ट का उद्घाटन नरेंद्र मोदी या अमित शाह के जन्मदिन से जोड़ना चाहते हैं। जिससे देवघर वासियों को हवाई सेवा के लिए जबरन 3 महीना और इंतजार करना पड़ेगा। जहां तक नामकरण का सवाल है मणिशंकर ने कहा कि देश के सारे एयरपोर्ट या तो उस शहर के नाम पर हैं या स्थानीय नेताओं के नाम पर। इस संबंध में उन्होंने कई उदाहरण भी दिए जैसे भुवनेश्वर का बीजू पटनायक, अहमदाबाद का सरदार पटेल, मुंबई का छत्रपति शिवाजी, लखनऊ का चौधरी चरण सिंह और पोर्ट ब्लेयर का वीर सावरकर एयरपोर्ट नाम रखा गया है। वहीं दूसरी ओर जयपुर, चेन्नई, त्रिवेंद्रम, इंदौर एवं कोचीन एयरपोर्ट का नाम उन शहरों के नाम पर है। उसी आधार पर झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी यह मांग करती है कि देवघर के नाम को गौरवान्वित करने वाले अविभाजित बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री पंडित विनोदानंद झा के नाम पर देवघर एयरपोर्ट का नाम रखा जाए। अन्यथा बाबा बैद्यनाथ अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट के नाम से देवघर एयरपोर्ट को जाना जाए। अन्य किसी बाहरी नेता का नाम देवघर एयरपोर्ट से जोड़ना न सिर्फ स्थानीय भावनाओं से खिलवाड़ होगा बल्कि ओ जी राजनीति की पराकाष्ठा होगी। भाई मौके पर देवघर कांग्रेस के पूर्व नगर अध्यक्ष अनंत मिश्रा ने कहा कि देवघर झारखंड की सांस्कृतिक राजधानी है। भाजपा नेताओं द्वारा देवघर एयरपोर्ट से बाहरी नेता का नाम जोड़ना यहां की संस्कृति बिगाड़ने जैसा माना जाएगा। अंत में उन्होंने कहा कि अगर देवघर एयरपोर्ट का नाम विनोदानंद झा या बाबा बैद्यनाथ के नाम पर नहीं रखा गया तो अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी आंदोलन करने को विवश हो जाएगा।

No comments