डीएलएड की परीक्षा हो सकती रद्द,देवघर के हज़ारों छात्र असमंजस में



देवघर:झारखंड अधिविध परिषद, रांची द्वारा अयोजित कक्षा 10 व 12वीं  के परीक्षा को रद्द कर दी गई है। इसके साथ ही देश के आधा दर्जन राज्यों ने 10वीं बोर्ड की परीक्षा रद कर दी है। ऐसे में अब सवाल उठ रहा है कि झारखंड में डीएलएड परीक्षा

क्या होगा? क्या झारखंड एकेडमिक काउंसिल (जैक) डीएलएड की परीक्षाएं रद होंगी ?

कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए अभिभावक भी डरे हुए हैं। अब तो अभिभावक भी कहने लगे हैं कि राज्य सरकार को भी छात्रहित में यह फैसला लेना चाहिए। अब सभी का ध्यान मुख्यमंत्री के फैसले पर लगा हुआ है।

अभिभावक महासंघ ने  रद्द करने की वकालत की 

अभिभावक महासंघ ने तो मांग की है कि मैट्रिक व इंटर परीक्षा के तर्ज पर डीएलएड की परीक्षा पर निर्णय लेकर छात्र और अभिभावक को राहत दे। 

अभिभावकों ने इस बाबत मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और शिक्षा मंत्री जगन्नाथ महतो को ट्वीट कर परीक्षा पर निर्णय करने की मांग की है। मुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री को किए टवीट में सभी  अभिभावकों ने कहा है कि हेमंत सरकार कोरोना महामारी के भयावह स्थिति को देखते हुए झारखंड अधिविध परिषद, रांची द्वारा अयोजित 

डीएलएड परीक्षा को रद्द करें।

क्या कहते है छात्र- छात्राएं

कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए राज्य सरकार को छात्रहित में परीक्षा रद्द करना चाहिए।

-शेखर सुमन

इस करोना काल के विकट परिस्थिति को देखते हुए  एग्जाम को रद्द कर देना चाहिए और परीक्षार्थियों को प्रमोट करना चाहिए क्योंकि देश कोविड महामारी का सामना कर रहा है और इस परिस्थिति में कोई भी रिक्स लेना बच्चों की जिंदगी के साथ खिलवाड़ होगा।

-सुभाष यादव, डीएलएड छात्र

सरकार को कुछ और कदम उठाना चाहिए डीएलएड प्रोफेशनल कोर्स है तो सरकार को ऑनलाइन एग्जाम लेना चाहिए। ये हमारे और बच्चे दोनो के भविष्य के लिए हैं।

-आईमन परवीन,डीएलएड छात्रा

इस कोरोना महामारी के कारण कृपया परीक्षा रद्द हो,यदि परीक्षा होगी तो कई छात्र कोविड पॉजिटिव हो जाएंगे। इसलिए स्थिति को देखते हुए परीक्षा रद्द किया जाय।

-दीपक कुमार यादव,डीएलएड छात्र

कोई टिप्पणी नहीं