दो बच्चों को लेकर माता-पिता के साथ पहुंची पीड़ित महिला ने पति, सास व ससुर पर लगाया आये दिन मारपीट करने का आरोप



सारठ : थाना क्षेत्र के हेठ बामनगामा निवासी रौशन नापित की पत्नी पिंकी देवी ने अपने पति, ससुर व सास के खिलाफ गाली-गलौज और मारपीट करने की शिकायत थाने में की है। पीड़ित 26 वर्षीय महिला ने बताया कि उनकी शादी आठ वर्ष पूर्व हेठबामनगामा निवासी सरलू नापित के पुत्र रोशन नापित के साथ हुई थी। शादी में मेरे पिता द्वारा दहेज के रूप में लगभग 3 लाख रुपये भी दिए थे और शादी के बाद कुछ वर्ष तक मैं ससुराल मैं ठीक-ठाक से रही। इस दौरान मैने एक पुत्री और एक पुत्र को भी जन्म दिया। लेकिन शादी के दो-तीन वर्ष बाद से ही मुझे लगातार दहेज के लिए प्रताड़ित किया जाने लगा। आवेदन में कहा गया है कि महिला ने ससुराल वालों की बात पर आकर कई बार अपने पिताजी से गोदरेज, ट्रंक व अन्य सामान खरीदने और चापानल बोरिंग कराने के लिए नगद सहयोग भी लिया। लेकिन इसके बावजूद भी महिला को उनके पति, सास व ससुर द्वारा आये दिन गाली ग्लोज और मारपीट किया जाता है। पिछले वर्ष पति ने डंडे से मारके महिला की दो पसली तोड़ दिया था। जबकि महिला का इलाज नैहर वालो ने कराया और ठीक होने के बाद पुनः ससुराल आकर रहने लगी। लेकिन फिर भी ससुराल वालो का रवैया नहीं बदला।और फिर से मारपीट करते रहे। पिछले 10 दिन पूर्व भी पिता से 50 हजार रुपये लाने को कहा गया था, लेकिन पिता ने पैसे नहीं होने की बात कही, तो पति ने मारपीट कर मुझे और मेरे बच्चे को मायके में छोड़कर भाग गया। उसके बाद कोई खोज खबर नहीं लिया। मैं अपने पति के मोबाइल पर भी संपर्क कर ससुराल आने की बात कही तो उन्होंने कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई और उल्टे मुझे ही खरी-खोटी सुनाई। तब मैं हारकर अपने माता-पिता के साथ थाने आकर इंसाफ की गुहार लगा रही हूँ। पीड़ित महिला ने कहा कि वो अपने दो छोटे-छोटे बच्चों के साथ अब कहां जायेगी। इधर महिला की शिकायत पर थाना प्रभारी करुणा सिंह ने पीड़ित महिला के ससुराल वालों को थाने बुलाया है। समाचार लिखे जाने तक मामला दर्ज नहीं हुआ था।

No comments