कुष्ठ मरीजों की विकलांगता रोकथाम के लिए प्रशिक्षण शिविर का आयोजन!



मधुपुर 29 जून कुष्ठ मरीजों की विकलांगता रोकथाम के लिए प्रशिक्षण शिविर आयोजित किया गया  मधुपुर मंगलवार असैनिक शल्य चिकित्सक सह मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी देवघर के निर्देशानुसार जिला कुष्ठ निवारण पदाधिकारी देवघर के देखरेख में मधुपुर प्रखंड के  सापतर गांव में कुष्ठ रोगियों विशेषकर ग्रेड 1 एवं  2 को विकलांगता से रोकथाम एवं खुद के देखभाल करने हेतु ओपीडी प्रशिक्षण कैंप का आयोजन किया गया  तथा मरीजों को समग्र  जानकारी प्रदान करते हुए प्रशिक्षित किया गया इस दौरान बताया गया कि   वैसे व्यक्ति जो  कुष्ठ बीमारी से मुक्त हो चुके हैं परंतु विकलांगता होने का डर बना रहता है इसलिए उसे विशेष तौर पर  एहतियात बरतने की जरूरत है  खासकर प्रतिदिन ठंडे पानी में आधा घंटा  प्रभावित अंग को डूबा कर रखना है तथा पानी से निकालते हैं पानी को कपड़ा से   सुखाए बिना  तेल  लगा लेना है ताकि उसमें नमी हमेशा बनी रहे  प्रशिक्षण में जिला स्तरीय टीम के कोऑर्डिनेटर बलराम महतो फिजियोथैरेपिस्ट श्वेता बाला विशेश्वर राम तथा अनुमंडलीय अस्पताल मधुपुर के पीएमडब्ल्यू जियाउल अंसारी एमपीडब्ल्यू राकेश कुमार बीटीटी लुखी मति  चाड़ें अनु देवी सुनीता देवी सविता देवी आदि थे प्रशिक्षण शिविर में योग्य मरीजों को एमसीआर चप्पल एवं सेल्फ केयर किट भी दिया गया अनुमंडलीय अस्पताल मधुपुर के उपाधीक्षक डॉक्टर मोहम्मद शाहिद ने बताया कि अनुमंडलीय अस्पताल मधुपुर में कुष्ठ मरीजों का पहचान करते हुए चिन्हित किए गए मरीजों को निशुल्क दवाई दिया जाता है जिससे वह पूर्ण रूप से ठीक हो जाते हैं अतः मधुपुर वासियों से अनुरोध होगा कि  किसी व्यक्ति में भी सुननापन चकता चकता जैसा दाग आदि लक्षण हो तो अनुमंडलीय अस्पताल  मधुपुर मैं जांच कराते हुए  कोर्स दवाई का सेवन अवश्य करें सभी स्वास्थ्य उपकेंद्र स्तरीय स्वास्थ्य कार्यकर्ता  से भी लक्षण पाए जाने पर जानकारी देते हुए चेकअप करा सकते हैं!

कोई टिप्पणी नहीं